गैस की घटतोली की शिकायत कर रहे है उपभोक्ता

जमाल आलम
इंदारा (मऊ) श्रीकृष्ण राम इण्डेन गैस एजेंसी अदरी पर घरेलू गैस सिलेंडर उपभोक्ता घटतौली व् सिलेंडर में पानी के शिकार हो रहे हैं। उपभोक्ताओं को उनके सामने सिलेंडर तौल कर नहीं दिया जा रहा, जबकि नियम है कि ग्राहक के सामने ही तौल कराई जाए। अफसर भी इसको लेकर संवेदनहीन बने हुए हैं। इससे लोगों मेें आक्रोश  है।

श्रीकृष्ण राम इण्डेन गैस एजेंसी अदरी में लगभग पांच हजार से ज्यादा गैस कनेक्शन उपभोक्ता है।  इस गैस एजेंसी से नगर पंचायत अदरी सहित इंदारा, कसारा, रईसा, मझवारा, सेमरी जमालपुर, चकरा, पहसा, अलीनगर सहित एक दर्जन गावो की गैस सिलेंडर की आपूर्ति करता है। एजेंसी पर जम कर मनमानी किया जा रहा है। इस एजेंसी द्वारा उपभोक्ताओं को सिलेंडर देता है उस सिलेंडर को उपयोग करने के बाद सिलेंडर में दो से चार किलो पानी निकल रहा है। और हर सिलेंडर में दो से तीन किलो काम सप्लाई की जाती है। एक सिलेंडर पर 20 से 25 रुपए ज्यदा लिया जाता है नये कनेक्शन के नाम प् आठ से दस हजार रुपए तक वसूला जाता है इसके बाबत लोगो ने कई बार विभाग के अधिकारिओ के यहाँ शिकायत की गई इसके बावजूद भी कार्यवाही नहीं हुई। इन गोदामों से निकलने वाली गैस सिलेंडर वजन में काम कर गैस निकल दी जाती है और तुरंत शोरूम पर लेकर सप्लाई कर दिया जा रही है। इस पर यह स्पष्ट हो गया है कि डोर टू डोर सिलेंडर पहुंचाने के नाम पर किस कदर उपभोक्ताओं के साथ ठगी की जा रही है। दरअसल जब गोदामों से सिलेंडर डिलीवरी के लिए निकलता है तब तौल मशीन से गैस का वजन किया जाता है। इसके बाद नियम यह है कि उपभोक्ताओं को देने से पहले उनके सामने ही तौल मशीन से सिलेंडर की जांच की जाए ताकि किसी को भी कम गैस न मिले। लेकिन ऐसा नहीं किया जा रहा है। गोदाम से सिलेंडर लेकर चलने वाले कर्मचारी गैस की चोरी रिफलिंग के जरिए कर रहे हैं। इसके बाद उपभोक्ताओं को देने से पहले उसकी तौल भी नहीं की जा रही है। इस वजह से एक माह चलने की जगह पंद्रह से बीस दिन में ही गैस खत्म हो जा रही है। इससे उपभोक्ता खासे परेशान हैं। चोरी की जा रही गैस की खुलेआम कालाबाजारी की जा रही है। इस संबंध में उपभोक्ता शिवकुमार, कामत, महेश प्रताप, झबर वर्मा, प्रवीण कुमार, हरिओम, सुरेश प्रसाद, दिलीप जायसवाल, विजयबहादुर, भृगुनाथ आदि ने जिलाधिकारी को पत्रक देकर उचित कार्रवाई करने की मांग की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *