ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं कर रहे नीतीश के मंत्री, पुलिस ने काटा महेश्वर हजारी की गाड़ी का चालान

सुमित भगत (सनी)

पटना : ऑपरेशन सुरक्षित पटना के दौरान मंगलवार को शहर में जबरदस्त वाहन चेकिंग हुई। चेकिंग में वीआईपी से भी नरमी नहीं बरती गई। पुलिस ने बिहार सरकार के भवन निर्माण व शहरी विकास मंत्री महेश्वर हजारी की गाड़ी का चालान काट दिया। मंत्री की गाड़ी पर काला शीशा लगा था। वहीं हजारीबाग स्पेशल ब्रांच में पदस्थापित एडिशनल एसपी एके सिंह की गाड़ी का भी चालान काटा गया।

 पुलिस, प्रेस और राजनीतिक पार्टियों का नाम लिखवाकर चलनेवाली कई गाड़ियों से जुर्माना वसूला गया। पांच घंटे तक पटना की सड़कों पर मैराथन चेकिंग चली। पुलिस ने बताया कि बेली रोड के हाईकोर्ट मोड़ के समीप मंत्री महेश्वर हजारी की गाड़ी का चालान काटा गया है। हालांकि मंत्री गाड़ी में नहीं थे। छह सौ रुपये का चालान उनकी गाड़ी पर काटा गया। वहीं चेकिंग देखकर भाग रही ट्रिपल 7 नंबर की एक गाड़ी को खदेड़कर पकड़ा गया। उस पर भभुआ के पूर्व विधायक सवार थे।

 जब मंत्री की गाड़ी को पकड़ा गया तो उस पर सवार लोगों ने पुलिस अफसरों से कहा कि वे मंत्री महेश्वर हजारी से बात कर लें। कहा कि देख नहीं रहे हैं गाड़ी पर मंत्री का बोर्ड लगा हुआ है। लेकिन पुलिस अफसरों ने मोबाइल पर बात करने से साफ इंकार कर दिया। बाद में पुलिस ने गाड़ी पर सवार लोगों को चालान के कागजात थमा दिए।

 मंत्री महेश्वर हजारी ने कहा है कि हर हाल में कानून का पालन होना चाहिए चाहे वो कोई भी हो। उन्होंने पुलिसवालों के कार्य की सराहना की है। मंत्री ने कहा है कि वह सरकारी गाड़ी थी। उस पर वे सवार नहीं होते हैं। गाड़ी में पेट्रोल भरवाने के लिये चालक उसे लेकर गया था। देर शाम मंत्री ने गाड़ी से काला शीशा और बोर्ड भी हटवा दिया। गाड़ी भी वापस लौटा दी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *