नागेपुर में ग्रामीणों द्वारा जल दोहन के खिलाफ प्रदर्शन किया

राजीव रंजन 

मिर्जामुराद (वाराणसी)। भूजल दिवस के अवसर पर रविवार को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम नागेपुर में ग्रामीणों ने कोका कोला प्लांट मेहदीगंज द्वारा किये जा रहे अंधाधुंध जलदोहन के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया।लोक समिति द्वारा नागेपुर के नंदघर के सामने धरना प्रदर्शन आयोजित किया गया।गांव की दर्जनों महिलाओं ने सर पर घड़ा लेकर प्रदर्शन किया। लोगों ने किसानों ने मचाया शोर,कोका कोला पानी चोर,दूध दही के देश में कोका कोला नही चलेगा,कोका कोला भगाओ पानी बचाओ,जल दोहन पर रोक लगाओ,कोका कोला का लाइसेंस रद्द करो, आदि नारे लगाये। उन्होंने नई सरकार से अविलम्ब कोका कोला बंद करने की मांग किया। लोगों ने प्रधानमंत्री जी से आराजी लाईन ब्लॉक में पीने का पानी और जल संरक्षण के लिए विशेष कार्यक्रम चलाने की अपील किया।

ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि कोका कोला कंपनी रोजाना लाखो लीटर भूजल का दोहन कर रही है जिससे आसपास से दर्जनों गाँवो में पानी का जल स्तर नीचे चला गया है जिसके कारण गांव के अधिकांश क हैण्डपम्प, कुँए, नलकूप व तालाब सूख गए है। लोगों को पीने का पानी और खेती के लिए पानी मिलना मुश्किल हो गया है। गर्मी आते ही कम्पनी और तेजी से पानी का जलदोहन करेगी जिससे पानी का संकट और बढ़ेगा। इतना ही नही कम्पनी के जहरीले कचरे और प्रदूषित पानी से आसपास की मिट्टी और पानी भी जहरीली हो रही है। गांव वालों ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर शीघ्र कम्पनी को बंद नही किया गया तो सभी सड़क पर उग्र आंदोलन करने को मजबूर होंगे।

लोक समिति के संयोजक नंदलाल मास्टर ने कहा कि जल दोहन के कारण आराजी लाइन ब्लाक का भूजल लगातार गिर रहा है, केन्द्रीय भूजल बोर्ड ने इस ब्लाक को अतिदोहित क्षेत्र घोषित कर दिया है और राज्य सरकार ने किसानों के नए हैण्डपम्प और बोरबेल लगाने को प्रतिबंधित कर दिया है, इसके बावजूद कोका कोला कम्पनी पानी की अनियंत्रित जलदोहन कर रही है। लोक समिति द्वारा कंपनी द्वारा किये जा रहे जलदोहन और उसके दुष्प्रभाव पर एक ब्यापक रिपोर्ट बनाई है और प्रधानमंत्री समेत राज्य और केंद्र के सभी सम्बंधित विभागों को कंपनी के उपर कार्यवाही करने की अपील किया हैं। इसके अलावा ग्रामीणों ने माँग किया कि आराजी लाइन ब्लॉक को केन्द्रीय भुजल बोर्ड ने अति दोहित क्षेत्र घोषित कर दिया हैं इसलिए ब्लॉक के समस्त जलाशयो ,जलकुन्डो,कुँओ व तालाबो को संरक्षित करने तथा जलकुन्डो, तालाबो कुँओ पर अवैध अतिक्रमण करने वाले के खिलाफ कार्यवाही करने,मनरेगा के तहत सार्वजनिक व् निजी जमीनों पर नये तालाब, जलकुन्डो व् कुँओं का निर्माण,मानसुन सत्र पौधरोपण,सार्वजनिक भवनों विद्यालय ,पंचायतभवन,अस्पताल आदि में रेन वाटर हारवेस्टिंग बनाकर जल संचयन का कार्यक्रम तथा किसानों को सिँचाई. के लिए पुरे साल नहर में पानी छोड़ा जाय।

धरने में मुख्य रूप से नंदलाल मास्टर,श्यामसुन्दर,अमित,पंचमुखी,अनीता,विनोद राकेश करिया यादव बबऊ चन्द्रकला पंचम सरिता,सोनी,कलावती उषा वर्षा बेबी, सीमा, आशा, मधुबाला, मनजीता, शमबानो, प्रेमा, मनीष, गोलू, सुरेश, गुलाब, ममता, मैनम, कुसुम, पूजा, सितारा, सुमन, प्रीति, नीतू, सुषमा आदि लोग शामिल रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *