देशभर में भीड़ तंत्र द्वारा हत्याओं में सरकार करें सख्त से सख्त कार्यवाही – ख़िदमत ए आवाम युवा समिति

सरताज खान

गाजियाबाद। देशभर में भीड़तंत्र द्वारा की जाने वाली हत्याओं की आय दिन खबरे आ रही है , जिसके कारण देशभर में काफी रोष भी है।अभी हाल ही में अलवर में हरियाणा के कोलगांव निवासी रकबर की भी कथित गौरक्षकों ने हत्या कर दी जिन्होंने रकबर पर गौ तस्करी का आरोप लगाया।

ख़िदमत ए आवाम युवा समिति शुक्रवार देर रात रकबर के परिवार से मिलने पहुँची। उसके बाद समिति अध्यक्ष मार्टिन फैसल ने बताया जानकारी के मुताबिक पूर्व में हुई पहलू खान की हत्या के पीछे भी वही लोग मौजूद थे जो रकबर की मौत के पीछे है जिससे यह साबित होता है सब कुछ सुनियोजित ढंग से हुआ तो फिर ऐसे मामलों को भीड़तंत्र का नाम क्यो दिया जा रहा है। यह तो एक आतंकवाद से बड़ी हैवानियत से भरी घटना है।इनको फांसी से बडी सज़ा का प्रावधान होना चाहिए। साथ ही उन्होंने दोषियों को हुकूमत का संरक्षण प्राप्त होना भी कबूला और कहा कि शर्म की बात है एक विधायक खुले तौर पर हत्यारे नाम लेकर कहते है कि हमे कुछ नही होगा हम विधायक के आदमी है। समिति मीडिया प्रभारी मुशाहिद खान ने कहा कि हम पीड़ित परिवार को हरसंभव मदद करने और कराने का प्रयास करेंगे और हुकूमत से माँग करेंगे दोषियों पर जल्द सख्त कार्यवाही हो। उत्तर प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारी राशिद मलिक ने बताया कि कानून को ना मानना उसका मजाक उड़ाना , सड़क पर किसी का भी कत्ल कर देना बेहद अफसोसजनक है , आरोपियों पर सख्त कार्यवाही और पीड़ितों को हरसंभव इंसाफ के लिए हम लगातार प्रयासरत रहेंगे।

कांग्रेस के पदाधिकारी शान मौ0 ने कहा कि हमारी बात राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से हुई जिन्होंने पीड़ित परिवार को हरसंभव मदद दिलाने का आश्वासन दिया और वो लगातार इसके लिए प्रयासरत है। ख़िदमत ए आवाम युवा समिति राष्ट्रीय सचिव एवम शिक्षा प्रमुख मौ इस्लाम ने कहा कि कुछ ही रोज़ पहले मोब लिंचिंग पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा केंद्र सरकार से इस पर सख्त कानून बनाने का आदेश आता है और उसके फौरन बाद फिर इस हैवानियत का दोहराना शर्म की बात है। साथ ही उन्होंने कहा दोषियों पर जल्द से जल्द सख्त कार्यवाही हो और पीड़ितों को हरसंभव मदद मिले। उन्होंने कहाकि ख़िदमत ए आवाम युवा समिति इस मसले पर लगातार गंभीरता से निगाह रखकर जुड़ी रहेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *