एस-300 के बाद इस्राईल सीरिया पर बमबारी की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा है

आदिल अहमद 

रूसी राजदूत ने कहा कि सीरिया की ओर मिसाइल फायर करने वाले विमान को तबाह और युद्धपोत को पानी में दफ्न कर दिया जाएगा।

दर अस्ल अमरीका और फ्रांस, सीरिया में रासायनिक हमले का आरोप लगा कर, मिसाइल हमला करने के प्रयास में थे। इसके साथ ही इस्राईल भी सीरिया में विभिन्न बहानों से बमबारी करता रहता किंतु पिछले दिनों इस्राईली युद्धक विमानों की बमबारी के दौरान, रूस का एक विमान, सीरियाई विमान भेदी तोप का शिकार हो गया था जिसके लिए रूस ने इस्राईल को ज़िम्मेदार ठहराया था  क्योंकि उसने समझौते के अनुसार, रूस को इस हमले की अग्रिम सूचना नहीं दी थी और केवल एक मिनट पहले ही बताया था।

रूस का कहना है कि इस्राईल ने एसे हालात बनाए जिसकी वजह से रूसी विमान निशाने पर आ गया।

इसके बाद रूस ने सीरिया को इस्राईल के लाख विरोध व अनुरोध के बावजूद, एस 300 से लैस कर दिया।

टीकाकारों का कहना है कि मंगलवार को चार इस्राईली युद्धक विमान, सीरिया की सीमा के निकट , एस 300 सिस्टम के बारे में जानकारी जुटाने गये थे किंतु मार गिराए जाने के डर से सीमा पार किये बिना ही इस्राईल लौट गये।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *