गर्भवती महिला मंशा देवी की आपरेशन के दौरान हुई मौत का मामला डेढ़ माह बाद फिर आया सुर्खियों में

उमेश गुप्ता

बिल्थरारोड (बलिया)। गर्भवती महिला मंशा देवी (26) की आपरेशन के दौरान हुयी मौत का मामला घटना के लगभग डेढ़ माह बाद सुर्खियों में आ गया जिससे मौके पर हड़कम्प मच गया था। और इस मामले में ऊषा हास्पीटल व उनके चिकित्सकों की बैधानिक जांच यहां सोनाडीह रेलवे ढाले के पास एसडीएम विपिन कुमार जैन व उप मुख्य चिकित्साधिकारी ए0के0 तिवारी द्वारा स्थानीय पुलिस टीम के साथ घटना स्थल पर पहुंच कर स्थलीय निरीक्षण किया। मौके पर हास्पीटल की जगह एक बड़ा हाल मिला, जिसमें अस्थाई चेम्बर बनाकर हास्पीटल चलाया जाता था। वैसे जांच रिर्पोअ के बाद इस मामले में प्राथमिकी दर्ज होकर कार्यवाही होना तय है। इस मामले में दोषी अपने को बचने के लिए तरह-तरह के हथकन्डे लगाने शुरु कर दिये हैं।

जांच टीम ने जिस भवन में हास्पीटल चलता था वहां कुछ भी न पाकर भवन स्वामी के पुत्र राजन मद्धेशिया से पूछ-ताछ की। और किरायानामा प्रपत्र की छाया प्रति भी प्राप्त किया। मौके पर चिकित्सक व उनकी पूरी टीम न मिलने पर टीम ने आपसी गहन मंत्रणा भी की। चिकित्सकों के मोबाईल फोन पर सम्पर्क करने का असफल प्रयास भी किये। चूंकि इस प्रकरण में घटना के बाद जांच पूर्ण होने के अभाव में अब तक प्राथमिकी दर्ज नही हो सकी है। इस बावत उभांव थाने के निरीक्षक राजेश कुमार ंिसह ने अग्रिम कार्यवाही के लिए इस हास्पीटल की मान्यता व चिकित्सकों की डीग्री के बावत जांच करके वास्तविकता से अवगत कराने के लिए अनुरोध पत्र उच्चाधिकारियों को भेजा था।

पुलिस में सूचना के मुताविक गर्भवती महिला मंशा देवी की मौत विगत् 23 अक्टूबर को आपेशन के दौरान हो गयी थी। जिसमें चिकित्सक के ऊपर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए मृतका के पति मिन्टू राजभर ने पुलिस को आवेदन दिया था। जिसके आधार पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम हेतु बलिया भेज दिया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *