कानपुर वार्ड नंबर 97 – जनता डूब रही सीवर के पानी में, पार्षद महोदय पी रहे फाइव स्टार होटल में काफी

अनीला आज़मी

कानपुर। हमेशा उद्योगों के लिये मशहूर रही उत्तर प्रदेश की औद्योगिक राजधानी कहलाने वाला शहर कानपुर आज गन्दगी और समस्याओ की मार से जूझ रहा है। सरकार ने स्मार्ट सिटी का दर्जा तो दे दिया, मगर आज भी इस शहर के कुछ इलाके ऐसे है जहा के पार्षद और उनके चाहने वाले लाख अपनी पीठ थपथपाया करे कि हमने ये कद्दू में तीर मार लिया है मगर हकीकत की सरज़मी पर आज भी इलाका मुलभुत सुविधाओ से वंचित है।

आज हम बात कर रहे है वार्ड नंबर 97 कर्नलगंज की जहा के पार्षद महोदय काफी भी पीने पांच सितारा होटल में जाते है और बड़े ही शान से अपनी फोटो खिचवा कर उसको सोशल मीडिया पर वायरल करते है कि लम्बी ड्राइविंग के बाद थकान मिटाने के लिए फलनवा पांच सितारा होटल में काफी का लुत्फ़ उठाते हुवे। मगर उनके क्षेत्र की आम जनता मुलभुत सुविधाओ से वंचित है।

वार्ड नंबर ९७ कर्नलगंज कहलाता है। इस वार्ड के पार्षद है क्षेत्र के विधायक इरफ़ान सोलंकी के बड़े ही करीबी अमीम खान। कहने को तो कोई ऐसा मौका नही है जब विधायक इरफ़ान सोलंकी उनकी पीठ ठोक कर ये न कहते हो कि इनका काम सबसे बढ़िया है।

मगर पार्षद महोदय की ज़मीनी हकीकत नग्न है। बतौर पार्षद अगर नंबर देने की बात आये तो आम जन को मुलभुत सुविधाए दिलवाने में नेता जी को शायद जीरो से ही काम चलाना पड़े। मगर नेता जी भी कम नही है इस जीरो के आगे खुद ही एक लगा कर पुरे 100 कर लेते है। तभी तो खुद पांच सितारा होटलों में काफी का लुत्फ़ उठाते है और उनके क्षेत्र की जनता जिन्होंने उनको अपना वोट देकर अपना रहनुमा चुना है वो सीवर के पानी में उछल कूद मचा कर अपने घरो को जाती है।

तस्वीरे इस वार्ड की गवाह है की किस तरह की गन्दगी का आलम है क्षेत्र में मगर पार्षद जी और उनके सरपरस्त विधायक इरफ़ान सोलंकी उनकी तारीफों के पुल बाँध कर उसके नीचे इन समस्याओ को दफन कर देते है। अब क्षेत्रीय नागरिक गरीब है और दबे कुचले है तो उनकी फ़रियाद सुनने के लिए नेता जी पार्षद नही बने है। क्षेत्रीय चर्चाओ की अगर बात करे तो नेता जी सामने आने वाली कई समस्या तो वह यह कहकर दूर कर देते है कि जिसको वोट दिया उससे जाकर मिलो मुझको तो फलनवा इलाके से वोट मिला है आपके इलाके से नही।

कर्नलगंज बड़ा मैदान के निवासियों की समस्या तो प्यास की है। मगर पार्षद महोदय जानते है कि प्यास मिनरल वाटर से बुझती है तो पानी की समस्या दूर करवाने के बजाये खुद की पांच सितारा होटल में ली गई तस्वीर वायरल करते है। बड़ा मैदान के निवासियों ने बताया की काफी सालो पहले तत्कालीन विधायक स्व। हाजी मुश्ताक सोलंकी ने इस क्षेत्र में एक पानी की टंकी का निर्माण करवाया था, मगर कुछ समय बाद वह टंकी भी अब सफ़ेद हाथी हो गई है। क्षेत्रीय जनता ने अथक प्रयास किया मगर टंकी नही बनी तो पानी की समस्या के निदान हेतु एक हैंडपंप सरकार से इल्तेजा करके लगवाया गया। अब वह हैण्डपंप भी पानी की उस समस्या को दूर करने में असमर्थ है और खुद कूड़े के ढेर के नीचे दब कर आत्महत्या कर रहा है।

समस्याए तो यहाँ इतनी है कि यदि एक एक समस्याओ को उठाना शुरू किया तो पूरा पेज भर जायेगा मगर जन समस्या समाप्त नही होगी। अगले अंक में हम बतायेगे कि रोज़ा इफ्तार पार्टी का आयोजन करके कैसे नेता लोग पैसे कमा लेते है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *