संगम स्नान करने आये मृत वृद्ध की शिनाख्त किया विदेश में रह रहे उसके बेटे ने, समाजसेवी आरिफ की सराहनीय भूमिका

आफताब फारुकी

प्रयागराज। इलाहाबद रेलवे जंक्शन के प्लेटफार्म नम्बर एक पर रविवार की सुबह गुजरात से संगम स्नान करने आये एक वृद्ध श्रद्धालु की संदिग्ध परिस्थिति में अचेतावस्था में पाया गया। सूचना पर पहुंची जीआरपी ने तत्काल एसआरएन ले गये जहां चिकित्सकों ने उन्हे मृत घोषित कर दिया। जीआरपी ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जामातलाशी में मिले मोबाइल से समाजसेवी मोहम्मद आरिफ ने उनकी शिनाख्त करायी।

गुजरात के जिला राजकोट के गोंडल थाना क्षेत्र के अक्षयधाम निवासी अरविन्द सम्पत 70 पुत्र स्वर्गीय लालजी ओदोजी सम्पत अपने कुछ साथियों के साथ संगम स्नान करने के लिए आये थे। जहां अपने साथियों से बिछड़ जाने के बाद वह अकेले इलाहाबाद रेलवे जंक्शन पहुंचे। वहां संदिग्ध परिस्थिति में अचेत हो गये। यात्रियों की सूचना पर पहुंची इलाहाबाद जीआरपी ने उन्हे तत्काल एसआरएन ले गयी। जहां चिकित्सकों ने उन्हे मृत घोषित कर दिया। जामातलाशी में मिले मोबाइल नम्बर 00971559635000 पर जब समाज सेवी मोहम्मद आरिफ ने उनके पुत्र जीतेन सम्पत से सम्पर्क किया तो पता चला कि उनका बेटा दुबई में नौकरी कर रहा है। समाज सेवी ने व्हाटशप के जरिये फोटो फेजकर उनकी शिनाख्त करायी। बेटे ने बताया कि आज ही इलाहाबाद के लिए निकल रहा है। बेटे के आने पर ही पोस्टमार्टम की कार्यवाही हो गयी। उन्होंने ने बताया कि मृतक के एक पुत्र, एक पुत्री और पत्नी पुष्पा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *