स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पूर्व सांसद गौरी शंकर राय की 96वी जयंती पर विचार गोष्ठी का हुआ आयोजन

विकास राय

गाजीपुर/ गौरी शंकर राय स्मृति समिति करनई, बलिया के तत्वाधान में प्रख्यात समाजवादी विचारक, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं पूर्व सांसद स्वर्गीय गौरी शंकर राय की 96 जयंती के अवसर पर विचार गोष्ठी एवं श्रद्धांजलि सभा का आयोजन, गौरी शंकर राय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय के सभागार में किया गया।

इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि बलिया के सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने राय साहब को नमन करते हुए कहा कि राय साहब कहते थे कि सरकार को किसान की आर्थिक मदद सीधे तौर पर चाहिए जो किसानों को लौटाना ना पड़े। सांसद विरेन्द्र सिंह मस्त ने कहा कि जो समाज अपने पूर्वजों का सम्मान नहीं करता वह समाज अपने मूल से भटक जाता है। राय साहब ने लोकतंत्र के खतरे को बहुत पहले ही भांप लिया था। वह मानते थे कि राजनीति तिजारत की विषय वस्तु नहीं बल्कि सेवा की विषय वस्तु है।

उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री नारद राय ने राय साहब को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए कहा कि राय साहब व्यक्ति नहीं अपने आप में एक संस्था थे। राय साहब जितने गांव के थे उतने ही राष्ट्र के और उतने ही विश्व के भी। पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के राजनीतिक सलाहकार एवं विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के सदस्य एच.एन. शर्मा ने राय साहब और चंद्रशेखर जी के संस्मरण पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर  शर्मा ने गौरी शंकर राय कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय की छात्राओं के बेहतर निष्पादन पर चंद्रशेखर-गौरीशंकर अवार्ड देने की घोषणा की। बैठक को पूर्व विधायक सुधीर राय, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष श्याम बहादुर सिंह, वरिष्ठ साहित्यकार डॉ जनार्दन राय, वरिष्ठ अधिवक्ता  पांडे गोविंद जी, हृदय नारायण सिंह, परमात्मा पांडे, भाजपा नेता अरविंद राय इत्यादि ने भी संबोधित किया। महाविद्यालय के डीएलएड की छात्राएं नेहा, रीमा, रागनी ,नीलम, ब्यूटी ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। गीतकार विजय प्रकाश पांडे ने राय साहब के संस्थानों पर आधारित गीत प्रस्तुत किए

इस अवसर पर महाविद्यालय में शैक्षिक उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए कुमारी प्रतीक्षा सिंह बीए तृतीय वर्ष को महादेव राय स्मृति चिन्ह, कुमारी नेहा गुप्ता बीएससी तृतीय वर्ष को रामाशंकर राय स्मृति चिन्ह, कुमारी सुमन एमए गृह विज्ञान को शिव शंकर राय स्मृति चिन्ह, कुमारी खुशबू गुप्ता एमए मनोविज्ञान को उमा शंकर राय स्मृति चिन्ह, कुमारी रश्मि ओझा बीएड विभाग को रामदुलारी राय विशिष्ट पदक, पूजा यादव को गौरी शंकर राय स्वर्ण पदक प्रदान किया गया। माता पिता एवं बुजुर्गों की सेवा के लिए दंपति मती शैडो राय एवं  कमल किशोर राय,  अंजनी तिवारी एवं  विनय राय को महाविद्यालय की तरफ से प्रशस्ति पत्र एवं अंगवस्त्रम देकर सम्मानित किया गया। गौरी शंकर राय स्मृति समिति के सचिव शिव कुमार राय ने अतिथियों का स्वागत किया तथा गौरीशंकर राय कन्या महाविद्यालय के प्रबंधक वीरेंद्र राय ने अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ नागरिक पंडित रामविचार पांडे ने तथा संचालन डीएलएड विभागाध्यक्ष धनंजय राय ने किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *