हरियाली पर दिन दोपहर चलाया जा रहा आरा, मैगलगंज वन रेंज में वन रक्षको की भूमिका संदिग्ध

फारुख हुसैन

बेहजम खीरी। खीरी जनपद मे हरेभरे व प्रतिबंधित पेडों का अवैध कटान थमने का नाम नही ले रहा है। तहसील मितौली क्षेत्र के बेहजम क्षेत्र पूर्वी व.पश्चिमी में तो लकडकट्टों ने सारी हदें पार कर दी है प्रतिदिन जहां वनरक्षक की सरपरस्ती मे ही धडल्ले से अवैध कटान हो रहा है। जहां आम सेमल सीशम आदि प्रजाति के पेङो को लेकर सरेआम बेरोक टोक काटे जा रहे हैं। सबसे अहम बात तो यह है कि नौकरी उत्तर प्रदेश सरकार की करते है मगर वह अपने फर्ज और दायित्व को भूल कर लकडकट्टों पर अपनी मेहरबानियां खुद की आँखे बंद करके लुटा रहे हैं।

इसको वनरक्षक की सरपरस्ती नहीं तो और क्या कहेगे जिसके करम से मे छुटभैया लकडी ठेकेदार से लेकर बडे ठेकेदार बन बैठे है। कल तक ये ठेकेदार ट्रैक्टर ट्रॉली पर लकडी लाद कर मंडी ले जाते थे लेकिन अब वन विभाग की मेहरबानियो के चलते ये ठेकेदार ट्रकों मे लकडी लाद कर खीरी जनपद समेत यूपी के बडे शहरो तक पहुंचा रहे है। आलम यह है कि वनरक्षक की खाऊ कमाऊ नीति के चलते लकडकट्टे प्रतिबंधित लकडी को सरेआम काट कर लकडी मंडी मे खपा रहे है। अगर कोई व्यक्ति अवैध कटान की शिकायत विभागीय अधिकारी से करता है तो उस शिकायतकर्ता को मैनेज करने के लिए वनरक्षक ही सामने आता है। ऐसे हालातो मे अवैध कटान पर रोक लग पाना मुश्किल लग रहा है। फिलहाल अब देखना यह है कि वन विभाग अपने कर्मचारी के खिलाफ कोई कार्यवाई करता है या फिर उसे अभयदान देकर अपने हिस्से की रकम मे इजाफा कराते है।

बेहजम क्षेत्र के धवरपुर बहादुरपुर पैला भूलनपुर उमरिया लूकेपारा बसारा झरवा सहित क्षेत्र के अनेको गांवो के आसपास दिन दोपहर बेहिचक किया जा रहा हरे भरे पेङो का कटान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *