कानपुर – वार्ड नम्बर 89 की जनता करे गुहार, एक बार सुन लो फ़रियाद विधायक जी और पार्षद जी हमार

कुमैल अहमद

कानपुर. स्वच्छ भारत अभियान को वार्ड नंबर 89 लगातार मुंह चिढ़ाता दिखाई दे रहा है। वार्ड नम्बर 89 के नागरिको ने गन्दगी की सफाई न होने की कई बार क्षेत्र के विधायक और पार्षद से गुहार लगाई है। मगर समस्या जस की तस बनी हुई है।

क्षेत्रीय जनता का कहना है कि गंदगी के कारण हमारा जीना दूभर हो गया है। क्षेत्र में गत दिनो विधायक अमिताभ बाजपेई के आने पर कूली बजार के मेन सड़क पर सफाई हुई थी। मगर बकरमंडी़ की गलियों में व्याप्त गंदगी की तरफ किसी ने देखा भी नही। शीशे वाली मस्जिद से लेकर लाटूश रोड तक कई कई दिनों कूड़ा पड़ा रहता है, मगर उसकी सफाई नही होती और न ही कूड़ा उठाने के लिए कर्मचारी आते है। जिससे नमाजियों को मस्जिद जाने में भी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

क्षेत्रीय नागरिको का आरोप है कि क्षेत्र में इस गन्दगी से बदबू का आलम है। जिसकी वजह से बिमारी पैदा हो रही है। ऊपर से बरसात के कारण कीचड़ ने माहौल और बिगाड़ दिया है। क्षेत्र के सभासद उमर शरीफ कई बार इसकी फ़रियाद किया गया है, मगर पार्षद महोदय ने मानो आंखों में पट्टी बांध ली है।

वही क्षेत्र का भ्रमण करने पर नज़र आता है कि नेता जी सिर्फ अपनी नेतागिरी में ही मस्त रहते है और क्षेत्र की देखभाल के लिए खुद का एक प्रतिनिधि रख डाला है। प्रतिनिधि रख सकते है अथवा नही इसके ऊपर हमको बहस नही करना है। मगर हालत ये है कि क्षेत्र में बजबजाती नालिय, जगह जगह बहता सीवर और जीर्ण अवस्था में नालियों ने ज़िन्दगी दुश्वार कर रखा होगा।

प्रकरण में पार्षद महोदय को कई बार फोन करके बात करने का प्रयास किया गया, मगर साहब का फोन हर बार उठाने वाले सज्जन कहते है कि भाई मीटिंग में है। बस समझ में ये नही आ पाया कि भाई (पार्षद) महोदय जब हमेशा मीटिंग में रहते है और किसी का फोन भी खुद पिक नही करते उसके लिए शायद सिक्रेटरी रख रखा होगा तो फिर आम जनता का कितना भला करेगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *