मदरसों में भी खिलाई जायेगी गोली एल्बेण्डाजोल – सीएमओ

संजय ठाकुर

मऊ- राष्ट्रीय कृमि (पेट के कीड़े) मुक्ति दिवस जनपद में 29 अगस्त को मनाते हुये एल्बेण्डाजोल की दवा खिलाई जाएगी। यदि इस दिवस कोई भी बच्चा छूट जाता है तो उन्हें 30 अगस्त से 4 सितंबर मॉप अप राउंड में दवा खिलाई जाएगी। 29 अगस्त को प्रत्येक प्राथमिक विद्यालय, माध्यमिक विद्यालय, इंटर कॉलेज, प्राइवेट इंटर कॉलेज, मदरसा, पॉलिटेक्निक, आईटीआई में यह कार्यक्रम संचालित किया जाएगा। जनपद में कुल 8.99 लाख बच्चों को गोली खिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सतीशचन्द्र सिंह ने निर्देशित किया कि 29 अगस्त 2019 को स्कूलों, मदरसों और आंगनबाड़ी केन्द्रों पर कृमि नियंत्रण की दवाई खिलाई जाए। सभी स्कूलों में सभी नामांकित बच्चों को टीचर द्वारा दवाई खिलाई जाए। आंगनबाड़ी केन्द्र में 1 से 6 साल के सभी पंजीकृत एवं गैर-पंजीकृत बच्चों और 6 से 19 साल के स्कूल न जाने वाले बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के द्वारा कृमि नियंत्रण दवा खिलाएं।

उन्होने निर्देशित किया कि कि गैर-पंजीकृत तथा स्कूल न जाने वाले बच्चों को आशा नजदीकी आंगनबाड़ी केन्द्र पर दवा खिलाने के लिए बुला कर लाये। इसके अलावा जो बच्चे बीमार हैं या कोई अन्य दवा ले रहें है, उन्हे एल्बेण्डाजोल दवाई नही खिलाये, जब वह बच्चे ठीक हो जाएं तब उन्हें एल्बेण्डाजोल दवा खिलाएं। उन्होने बताया जो बच्चे राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस पर दवा से वंचित रह जायेंगे उन्हें 30 अगस्त से 4 सितम्बर 2019 तक दवा खिलायी जायेगी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने आगे बताया कृमि पोषण उत्तकों से भोजन लेते है, जैसे रक्त, जिससे खून की कमी हो जाती है। वहीं कृमि के कारणकुपोषण में वृद्धि और शारीरिक विकास पर खास असर पड़ता है।, कृमि बच्चों के शरीर के लिए महत्वपूर्ण पोषण तत्वों को खा लेते हैं और राउड कृमि आंत में विटामिन-ए को अवशोषित कर लेते हैं।

डीसीपीएम संतोष सिंह ने बताया इस कार्यक्रम के दौरान 1 वर्ष से लेकर 19 वर्ष तक के सभी बच्चों को एल्बेण्डाजोलकी गोली खिलाई जाएगी। साथ ही आशाओं द्वारा स्कूल न जाने वाली किशोरियों और किशोर को भी सूचीबद्ध किया जाएगा जिनको आंगनबाड़ी के माध्यम से एल्बेण्डाजोल की गोली खिलाई जाएगी। कार्यक्रम के अंतर्गत सभी मदरसों को भी दायरे में लिया जाएगा। जनपद में कुल 2016 प्राथमिक विद्यालय, माध्यमिक विद्यालय वइंटर कॉलेज, 818 प्राइवेट कॉलेज और 2,587 आंगनवाड़ी केंद्रों पर यह कार्यक्रम एक साथ 29 अगस्त को संचालित किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *