जिहाद का मतलब खुद के अन्दर की बुरी नफ्ज़ को मारना है, न कि किसी बेकसूर को मरना – जिलाधिकारी आजमगढ़

महबूब अली खान

आज़मगढ़। ईदुल अज़हा के मद्देनजर थाना मुबारकपुर में शांति समिति की बैठक हुई जिसमे नगर के सम्मानित लोगो के साथ साथ नगर से सटे गाव के सम्मानित लोग एवम प्रधान उपस्थित रहे। इस अवसर पर अधिकारियों ने सभी लोगो से शांतिपूर्ण तरीके से त्योहार मनाने के साथ आपसी भाई चारगी बनाये रखने की अपील की। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक प्रोफेसर त्रिवेणी सिंह ने लोगो को संबोधित करते हुए बताया कि किस प्रकार से सोशल क्राइम पर पैनी नज़र रखी जा रही है और बहुत हद तक सोशल क्राइम पर काबू पाया जा चुका है।

इसी क्रम में जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि कुछ लोग जेहाद की बाते करते है, जब कि उनको खुद जेहाद का मतलब पता नही होता। कुरान के अनुसार जेहाद का मतलब अपने अंदर के बुरे नफसो को मारना है किसी बेकसूर को नुकसान पहुचाना नही और यही उपदेश गीता में भी है।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक प्रोफेसर त्रिवेणी सिंह, जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह, एसडीएम सदर प्रशांत नायक, सीओ सदर मोहम्मद अकमल खान, थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार मिश्रा, चौकी इंचार्ज कमल नयन दुबे व सम्मानित लोग उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *