पश्चिमी सैनिकों की उपस्थिति ही तनाव में वृद्धि का मुख्य कारण : इराक़

आदिल अहमद

इराक़ के विदेशमंत्री ने स्पष्ट किया है कि क्षेत्र में पश्चिमी सैनिकों की उपस्थिति ही तनाव में वृद्धि का मुख्य कारण है। मुहम्मद अली अलहकीम ने इराक़ क्षेत्र में शांति एवं सुरक्षा का इच्छुक है। 

उन्होंने फ़ार्स की खाड़ी में अमरीका के तथाकथित सैन्य गठबंधन की विफलता की ओर संकेत करते हुए कहा कि पश्चिमी सैनिकों की उपस्थिति के कारण मध्यपूर्व में अशांति बढ़ी है।  इराक़ के विदेशंमंत्री ने फ़ार्स की खाड़ी में अमरीका के तथाकथित सैन्य गठबंधन में अवैध ज़ायोनी शासन की उपस्थिति के बारे में कहा कि बग़दाद इस बात को किसी भी स्थिति में स्वीकार नहीं करेगा।

उल्लेखनीय है कि ईरान पर दबाव बढ़ाने के उद्देश्य से अमरीका ने हालिया कुछ महीनों के दौरान फ़ार्स की खाड़ी में अपनी सैन्य उपस्थिति में वृद्धि की है।  अब वह ब्रिटेन जैसे अपने घटक के सहयोग से उकसावे वाली कार्यवाहियां कर रहा है।  कुछ समय पहले अमरीका ने घोषणा की थी कि वह फ़ार्स की खाड़ी में एक सैन्य गठबंधन बनाने जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *