येलो वेस्ट आन्दोलन ने प्रभावित किया फ़्रांस के टूरिज़्म को

आदिल अहमद

 फ़्रांस के हालिया प्रदर्शनों से वहां के टूरिज़्म को बुरी तरह से प्रभावित किया है।
सरकार की नीतियों के विरुद्ध फ़्रांसीसी जनता के प्रदर्शनों पर पुलिस की हिंसा के कारण फ़्रांस के पर्यटन विभाग को भारी क्षति पहुंची है।  बहुत से ग़ैर सरकारी सूत्रों का कहना है कि सरकार विरोधी प्रदर्शनों से अबतक फ़्रांस की अर्थव्यवस्था को अरबों डाॅलर की क्षति पहुंच चुकी है।
फ़्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रां की नीतियों के विरोध में पिछले एक वर्ष से जारी प्रदर्शन, अधिकांश हिंसा का शिकार हुए हैं।  इस हिंसा के बाद बहुत से पर्यटकों ने फ़्रांस की यात्रा के बारे में फिर से सोचना शुरू किया है कि एसी स्थिति में वहां की यात्रा की जाए या नहीं।  फ्रांसीसी सरकार के विरुद्ध “येलो वेस्ट” आन्दोलन का प्रदर्शन पिछले ग्यारह महीनों से जारी है जो बारहवें महीने में प्रविष्ट हो चुका है।  इस आन्दोलन के समर्थक हमेशा ही पुलिस की हिंसा की निंदा करते रहे हैं।  पिछले ग्याहर महीनों से जारी सरकार विरोधी प्रदर्शनों में अबतक कम से कम 11 लोग मारे गए जबकि इस दौरान 1717 लोग घायल हुए हैं।
ज्ञात रहे कि 17 नवंबर 2018 को फ़्रांस में ईंधन पर टेक्स में वृद्धि पर विरोध करते हुए “येलो वेस्ट” नामक प्रदर्शन आरंभ हुए थे जो बाद में मैक्रां सरकार की आर्थिक नीतियों के विरुद्ध एक आन्दोलन के रूप में परिवर्तित हो गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *