सपने जो रह गये भीषण जाम की वजह से अधूरे, काफी अभ्यर्थियों की छूट गई परीक्षा

बापू नंदन मिश्र

रतनपुरा (मऊ) केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटेट) परीक्षार्थियों की भारी भीड़ के चलते  यातायात व्यवस्था लगभग पूरी तरह ध्वस्त हो गई।सभी सड़कों पर भीषण जाम की स्थिति देखी गई। जहां मुख्यमंत्री अथवा किसी नेता के आने पर शासन द्वारा रोड डायवर्ट कर दिया जाता है, कि गाड़ियां दूसरे रास्ते से अपने गंतव्य स्थान पर जाएगी और इतनी बड़ी परीक्षा के लिए कोई शासन द्वारा व्यवस्थित व्यवस्था नहीं की गई जबकि सीटेट परीक्षा केंद्र जनपद मऊ को बनाने के साथ ही आजमगढ़, बलिया, गाजीपुर और मऊ के तमाम अभ्यर्थी आज परीक्षा देने के लिए जनपद के अंदर बनाए गए विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर पहुंचे।

इससे सड़कों पर भीषण जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई यही नहीं परीक्षा देने के लिए परीक्षार्थी कोई बाहर से आया, तो कोई मन में शिक्षक बनने का सपना लिए पूरी तैयारी से विद्यालय के गेट पर पहुंचा भी तो लेट. जिससे परीक्षा में शामिल ना हो सका. जाम के अन्यान्य कारण बताया जा सकते हैं. जिसमें विकासखंड रतनपुरा के थलईपुर में मऊ-बलिया मार्ग पर स्थित रेलवे गेट संख्या 27 बी पर सुबह से ही भीषण जाम लग गया. क्योंकि एक तरफ जहां परीक्षा देने वाले परीक्षार्थियों का अपने विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर जाने के लिए निकलने से रोड पर भारी भीड़ थी. वहीं दूसरी तरफ गेट की मरम्मत के लिए खोदी गई सड़क के कारण वाहनों के उसमें फंसने से भी जाम की समस्या में वृद्धि हुई।

विगत कई दिनों से रेलवे गेट के मध्य पटरियों को ठीक करने के लिए  खुदाई कर दी गई है जिससे कंकड़ पूरी तरह उखड़ गए हैं और काफी खतरनाक स्थिति में हो गए हैं। खासतौर से दोपहिया और तीन पहिया वाहन चालकों के लिए बड़ी समस्या उत्पन्न हो गई है। सुबह गेट के दोनो तरफ सैकड़ों गाड़ियाँ जाम की वजह से खड़ी हो गई। बाइक सवार तो किसी तरह से पार हो जा रहे थे किंतु चार पहिया वाहनों के लिए बहुत समस्या थी। कितने ही अभ्यर्थियों ने अपने चार पहिया वाहन छोड़ अन्य बाइक सवारों से लिफ्ट लेकर अपने परीक्षा केंद्रों पर जाना मुनासिब समझा।

सुबह यातायात नियंत्रण की कोई समुचित व्यवस्था नहीं होने से परीक्षार्थियों के साथ ही अन्य व्यक्तियों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। रेलवे गेट संख्या 27 बी पर भीषण जाम की जानकारी होने पर थानाध्यक्ष हलधरपुर अपने सहयोगियों को साथ लेकर मौके पर पहुँचे और यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए घंटों पसीना बहाया। तब जाकर कहीं यातायात सुचारू रूप से संचालित हो सका। फिर भी बीच सड़क हुई खुदाई के कारण पूरे दिन जाम की समस्या से जुड़ता रहा गेट संख्या 27 बी और राहगीर होते रहे परेशान।

इस जाम के नाते होने वाले विलंब से कितने ही परीक्षार्थियों को परीक्षा सेंटर पर पहुँचने में विलंब हुआ।तथा परीक्षा हाल में प्रवेश के लिए विद्यालय प्रशासन से निहोरा करना पड़ा किंतु साढे नौ बजे के बाद परीक्षार्थियों को परीक्षा हाल में प्रवेश नहीं करने दिया गयाऔर कई अभ्यर्थियों की परीक्षा छूट गई जिसके कारण उन्हें निराश मन से वापस अपने घरों के लिए लौटना पड़ा। कई अभ्यर्थी यातायात की दुर्व्यवस्था को कोसते हुए अपने गंतव्य को रवाना हुए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *