जिले में चलेगा गैर संचारी रोग स्क्रीनिंग अभियान

संजय ठाकुर

मऊ- जनपद में गैर संचारी रोग स्क्रीनिंग अभियान 16 जनवरी से 15 फरवरी तक चलेगा।  इसके लिये मुख्य चिकित्सा अधिकारी के सभागार में बैठक हुई।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ सतीश चंद्र सिंह ने बताया गैर संचारी रोग आज के समय में तेजी से पाँव पसार रहे हैं। इस समस्या को दूर करने हेतु स्वास्थ्य विभाग द्वारा उप केंद्रों पर आरोग्य केंद्र बनाये गये हैं। जहां पर एएनएम और कम्यूनिटी हेल्थ आफ़िसर (सीएचओ) मिलकर क्षेत्र के लोगों को सेवाएं प्रदान कर रहें हैं। उन्होने बताया कि गैर संचारी रोग देश में मृत्यु का प्रमुख कारण बनते जा रहे हैं और कुल मौतों में इन रोगों से मरने वालों का अनुपात 42 प्रतिशत से अधिक है। रिकार्ड के अनुसार गैर संचारी रोगों के कारण शहरी और ग्रामीण, दोनों ही आबादियों में रुग्णता एवं मृत्यु-संख्या में चिंताजनक बढ़ोतरी देखने को मिली है।

सीएमओ ने बताया कि इन बीमारियों से 30 वर्ष आयु के उपर लोग ग्रसित हो रहे हैं। जिसमें प्रति 1000 पर 37 प्रतिशत 30 साल के लोग होते है, जिनके जीवन की क्षति हो रही है। मधुमेह, हाइपरटेंशन, इस्केमिक हार्ट डिजीज (आईएचडी) और स्ट्रोक (आघात) जैसी बीमारियों की स्थिति भारत में प्रति 1000 पर क्रमशः 62.47, 159.46, 37.00 और 1.54 है। भारत में कैंसर के लगभग 25 लाख रोगी हैं।

अपर मुख्य चिकित्साधिकारी और नोडल अधिकारी डा पीके राय ने बताया कि गैर संचारी रोगों के बढ़ते बोझ को देखते हुए उनसे निपटने के कदम उठाए जा रहे हैं।  इन बीमारियों में मधुमेह उच्च रक्तचाप, मुंह का कैंसर, छाती का कैंसर और बच्चेदानी का कैंसर प्रमुख है। डीसीपीएम संतोष सिंह ने बताया कि जनपद में प्रथम चरण में 30 सब सेंटर में से 22 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर ऑपरेशनल है। इनमें 19 पीएचसी और 3 अर्बन पीएचसी है। जहां पर यह जांच अभियान चलाया जाएगा। स्क्रीनिंग के दौरान संदिग्ध रोगी पाए जाने पर उन्हें तुरंत पीएचसी/सीएचसी व जिला अस्पताल में भर्ती कराया जायेगा। लोग इसमें अपना निशुल्क स्क्रीनिंग और इलाज का लाभ ले सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *