गांधी का तिरस्कार करने वाले ही शाहीन बाग़ से मुक्ति चाहते हैंः चिदंबरम

नीलोफर बानो

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और भारत के पूर्व गृह एवं वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने कहा है कि महात्मा गांधी का तिरस्कार करने वाले ही ‘शाहीन बाग़ से मुक्ति’ चाहेंगे। पूर्वगृह मंत्री चिदंबरम ने ट्वीट करके कहा कि देश के गृहमंत्री अमित शाह ने शाहीन बाग़ से मुक्ति पाने के नाम पर वोट मांगा है।  उन्होंने कहा कि जो लोग गांधी का तिरस्कार करते हैं वे ही शाहीन बाग़ से मुक्ति पाना चाहते हैं।

चिदंबरम ने कहा कि शाहीन बाग़, महात्मा गांधी के मूल विचारों का प्रतिनिधित्व करता है।  उनका कहना था कि शाहीन बाग़ से मुक्ति पाने का मतलब अहिंसा और सत्याग्रह से मुक्ति पाना है।  इससे पहले चिदंबरम ने नागरिकता संशोधन कानून विरोधी प्रदर्शनों की पृष्ठभूमि में गणतंत्र दिवस के मौके पर कहा कि विरोध का स्तर बढ़ाया जाना चाहिए।

ज्ञात रहे कि दिल्ली के बाबरपुर निर्वाचन क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार के लिए प्रचार करते हुए भारतीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को कहा था कि भाजपा उम्मीदवार को आपका मत, दिल्ली और देश को सुरक्षित बनाएगा और शाहीन बाग़ जैसी हजारों घटनाओं को रोकेगा।

शाह ने बीते रविवार को बाबरपुर विधानसभा क्षेत्र में आयोजित की गई शाह ने इस चुनावी रैली में कहा कि इस बार कमल के निशान पर बटन दबाओ तो इतने गुस्से के साथ दबाना कि बटन तो बाबरपुर में दबे किंतु करंट वहां शाहीन बाग़ में लगे।  उल्लेखनीय है कि दक्षिण पूर्वी दिल्ली के शाहीन बाग़ में दिसंबर मध्य से बहुत बड़ी संख्या में महिलाएं सीएए के खिलाफ धरना दे रही हैं।  गणतंत्र दिवस के अवसर पर वहां पर लाखों लोगों ने एकत्रित होकर ध्वजारोहण किया और राष्ट्रीय गान गाया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *