ईरान के ख़िलाफ़ ज़्यादा से ज़्यादा दबाव की अमरीकी नीति नाकाम है – जर्मन विदेश मंत्री

तारिक खान

जर्मन विदेश मंत्री ने वाइट हाउस की ईरान के ख़िलाफ़ नीतियों की आलोचना करते हुए, वॉशिंग्टन की अत्यधिक दबाव की नीति को नाकाम बताया है।

हाइको मास ने जर्मन अख़बार बिल्ड से इंटरव्यू में तेहरान के ख़िलाफ़ वॉशिंग्टन की अत्यधिक दबाव की नीति की आलोचना में कहाः “धमकी भरी मुद्रा और सैन्य कार्यवाही से इस्लामी गणतंत्र के रवैये में कोई बदलाव नहीं आया है। उन्होंने ईरान के ख़िलाफ़ अमरीकी सरकार की नीतियों की आलोचना करते हुए पश्चिम एशिया में व्यापक संकट की ओर से चेतावनी दी।

हाइको मास ने परमाणु समझौते जेसीपीओए का एक बार फिर समर्थन किया और इस समझौते में शामिल 3 योरोपीय देश जर्मनी, ब्रिटेन और फ़्रांस की वादाख़िलाफ़ी का ज़िक्र किए बिना ईरान से परमाणु समझौते की पाबंदी की मांग की। अमरीका ने 8 मई 2018 को परमाणु समझौते जेसीपीओए से ग़ैर क़ानूनी तरीक़े से निकलने का एलान करने के बाद, ईरान के ख़िलाफ़ हर तरह की पाबंदी लगा दी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *