मुख़्तार अंसारी के आर्थिक साम्राज्य पर प्रशासन की टेढ़ी हुई नज़र

शहनवाज़ अहमद

गाजीपुर. जनपद के चर्चित मऊ विधायक मुख्तार अंसारी पर शासन की नजरें दिन पर दिन टेढ़ी होती जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषणा की थी कि जेल का खेल अब नहीं चलने दिया जाएगा, उस पर अमल करने को प्रशासन ने कमर कस ली है।

दरअसल, प्रदेश की पुलिस फाइल में संगठित अपराध करने वालों में मुख्तार गैंग सूचीबद्ध है। करीब 15 साल से जेल में निरुद्ध होने के बावजूद मुख्तार ने अकूत संपत्ति खड़ी की है। जेल से ही लगातार चुनाव जीतने के साथ ही पूर्वांचल के अनेक जिलों में इनका आर्थिक साम्राज्य फैला हुआ है। प्रशासन अब उनका साम्राज्य ध्वस्त करने का मन बना लिया है।

इसी कड़ी में विभिन्न क्षेत्रों में बैठे उसके करीबियों पर पुलिस कार्रवाई का दौर शुरू हो गया है। ठेकेदारी से लगायत भूमि, रीयल इस्टेट, कोयला, टेलीकॉम टावर, मछली, मांस, असलहे आदि किसी भी क्षेत्र में जो भी सफेदपोश और अपराधी किस्म के लोग शामिल हैं, कहीं न कहीं से मुख्तार अंसारी से जुड़े माने जा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *