तन्ज़ीम बरेलवी उलमा-ए-अहले सुन्नत ने एसएसपी को सौंपा ज्ञापन कहा – ख्वाजा गरीब नवाज़ की तौहीन नाक़ाबिल बर्दाश्त : हाफिज़ फ़ैसल जाफ़री

मो0 कुमैल

कानपुर: शहंशाह-ए-हिन्दुस्तान अताए रसूल हज़रत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती अजमेरी रजिअल्लाहु अन्हु की शान मे न्यूज़ 18 इण्डिया के ऐंकर अमीष देवगन द्वारा की गई आपत्तिजनक टिप्पणी नाकाबिले बर्दाश्त है, हुकूमत व जिला प्रशासन को चाहिए कि इसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाई की जाए। इसी माँग को लेकर आज तन्ज़ीम बरेलवी उलमा-ए-अहले सुन्नत का एक प्रतिनिधिमंडल अध्यक्ष हाफिज़ व क़ारी सैयद मोहम्मद फ़ैसल जाफ़री की क़यादत मे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के कार्यालय पहुँचकर प्रतिनिधि सीओ कार्यालय को एक ज्ञापन सौंपा ज्ञापन के माध्यम से यह माँग की

उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान के सूफी संत हज़रत ख्वाजा गरीब नवाज़ की शान मे अमीष देवगन ने आक्रान्ता (हमला करने वाला चिश्ती) व लुटेरा चिश्ती की भाषा का प्रयोग करके न सिर्फ मुल्क के मुसलमानो बल्कि विश्व के करोंड़ो मुसलमानो की भावनाए आहत किया हैं। जिससे मुसलमानो मे काफी आक्रोश व्याप्त है। मुसलमान सब कुछ बर्दाश्त कर सकता है, लेकिन ख्वाजा गरीब नवाज़ की शान मे की गई तौहीन नही बर्दाश्त करेगा। ख्वाजा गरीब नवाज़ की दरगाह (अजमेर शरीफ) मे हर धर्म के लोग रोज़ाना लाखो की तादाद मे हाजरी देते हैं। ऐसे मे इस तरह की तौहीन करना निंदनीय है। ऐसे ऐंकर अमीष देवगन व सीईओ राहुल जोशी के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करने का आदेश करें। ताकि दोबारा कोई ऐसी हरकत न कर पाए।

प्रतिनिधिमंडल मे हाफिज़ सैयद मोहम्मद फ़ैसल जाफरी के अलावा क़ारी मोहम्मद आदिल अजहरी, हाफिज़ मोहम्मद इरफान, हयात ज़फर हाशमी, ज़मीर खान, सैयद शाबान, आकिब बरकाती, शाहनवाज़ अन्सारी, यूसुफ मन्सूरी आदि लोग मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *