तेल की बढती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस का देशभर में प्रदर्शन, सोनिया गाँधी का ने कहा, मोदी सरकार जनता से वसूली कर रही है

तारिक आज़मी

डेस्क। लॉकडाउन के बीच लगातार तेल की क़ीमतें बढ़ने के विरोध में कांग्रेस ने आज देशभर में प्रदर्शन किया। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कार्यकर्ताओं को वीडियो के ज़रिये संबोधित किया। सोनिया गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर जनता से वसूली करने का आरोप लगाया है।

अपने संबोधन में सोनिया गांधी ने लॉकडाउन के बाद से तेल की क़ीमतों में 22 बार बढ़ोतरी होने पर कहा कि ‘सरकार का काम संकट के समय जनता की मदद करना था न कि उनकी गाढ़ी कमाई से मुनाफ़ा कमाना।’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में तेल की क़ीमतें जब लगातार कम हो रही थीं, तब भी मोदी सरकार ने आम जनता को उसका लाभ नहीं दिया।

कांग्रेस अध्यक्ष ने मोदी सरकार पर लॉकडाउन के दौरान अपना खज़ाना भरने का आरोप लगाते हुए कहा, “सरकार ने 12 बार एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई जिससे सरकार ने लगभग 18 लाख करोड़ रुपये की अतिरिक्त वसूली की है। ये अपने आप में जनता की मेहनत की कमाई से पैसा निकाल के खज़ाना भरने का जीता-जागता सबूत है।” सोनिया गांधी ने कहा कि ‘सरकार की ज़िम्मेदारी ये है कि मुश्किल समय में देशवासियों का सहारा बने, न कि उनकी मुसीबत का फ़ायदा उठाकर मुनाफ़ाखोरी करे।’ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में तेल की क़ीमतें कम होने का हवाला देते हुए सरकार से पेट्रोल और डीज़ल के बढ़े हुए दाम वापस लेने की मांग की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *