कोरोना वायरस से बचाव के लिए बच्चों की हुई थर्मल स्कैनिंग,  सुभाष चिल्ड्रन होम को किया गया सैनिटाइज एवं कोविड-19 से बचने के लिए दिये गए सुझाव

आदिल अहमद/मोहम्मद कुमेल

कानपुर। बाल सेवी संस्था सुभाष  चिल्ड्रन  सोसाइटी संचालित सुभाष चिल्ड्रन होम के बच्चो   को कोविड19 महामारी से बचाव हेतु सभी 38 बच्चों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई गई। बच्चों के लिए हैंड फ्री सैनिटाइजर मशीन की व्यवस्था की गई, तथा संपूर्ण सुभाष चिल्ड्रन होम को सेनीटाइज भी कराया गया। जिसके साथ ही बच्चों को कोराना से बचने हेतु टिप्स भी दिए गए।

कार्यक्रम के दौरान बच्चों को रोटेरियन सतीश चंद गुप्ता चार्टर अध्यक्ष रोटरी क्लब कानपुर त्रिमूर्ति ने कोरोना वायरस के फैलने के बारे में बच्चों को बताया कि यह बीमारी सिर्फ खांसी और छींक के जरिए लोगों में फैल सकती है। इसका मतलब यह वायरस बहुत आसानी से किसी को भी संक्रमित कर सकता है। इसके अलावा यह वायरस लार के जरिए निकट संपर्क या बर्तन शेयर करने में फैल सकता है। क्योंकि यह फेफड़ों को संक्रमित करता है। इसलिए खांसते वक़्त मुंह से निकलने वाली बूंदे भी सामने वाले को संक्रमित कर सकती हैं।

कमल कांत तिवारी प्रबंधक सुभाष चिल्ड्रन होम ने कोविड 19 के  बारे में विस्तृत रूप से बताते हुए बताया कि इस वायरस से संक्रमित होने के कई दिनों बाद भी कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई देते हैं। कोरोना वायरस के मरीज़ों में आमतौर पर बुखार जैसे शुरुआती लक्षण दिखाई देते है। इसके बाद ये लक्षण निमोनिया व किडनी को नुकसान पहुंचाते हैं। साथ ही उन्होंने बच्चो को बताया कि कोरोना वायरस से बचने के लिए सफाई रखना बहुत आवश्यक है। सफाई रखने के लिए सर्वप्रथम हाथ धोना एक महत्वपूर्ण कार्य है।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से संस्थाध्यक्ष कमल कांत तिवारी रोटरी क्लब कानपुर त्रिमूर्ति  चार्टर अध्यक्ष रोटेरियन सतीश चंद गुप्ता सुभाष चिल्ड्रन होम की आशा सचान संजुला पांडेय रुचि सचान ज्योति शर्मा सरोज देवी गीता शुक्ल पम्मी गौरव सचान सहित सुभाष चिल्ड्रेन होम के 03 दर्ज़न से अधिक बच्चे उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *