जलकुंभी और जलजमाव से डूब रहे हजारों गांव

संजय ठाकुर

(मऊ) विकासखंड बडराव के अन्तर्गत पकड़ी ताल का पानी पकड़ी ड्रेन (नहर) के माध्यम से टौंस नदी में जाकर गिरता है जिससे सैकड़ों गांवों के हजारों एकड़ भूमि डूबने से बच जाती है। पिछले कुछ सालों से पकड़ी ड्रेन की सफाई नहीं हुई है, जिससे पूरा ड्रेन जाम हो गया है और वर्तमान समय में जलकुंभी ने और जाम कर रखा है।

बारिश के कई दिनों के बाद भी ग्राम – मखदुमपुर मलिक, गौरी, धरौली, कैथवली जमीन कैथवली, पकड़ी खुर्द, पकड़ी बुजुर्ग, मदापुर शमसपुर होलीपुर, कस्बा खास मुस्किया, मिर्ज़ा जमालपुर नवपुरा, पहाड़पुर, सरहरा जमीन सरहरा, लाखीपुर, हाजीपुर, मानिकपुर जमीन हाजीपुर हांसापुर किरकिट, कारीसाथ, कल्यानपुर, टड़ियांव, इटौरा डोरीपुर, हरदासपुर इत्यादि गांवों के हजारों एकड़ कृषि योग्य भूमि जलमग्न है। हजारों किसान परिवार इससे प्रभावित हैं।

सहकारी चीनी मिल्स घोसी व आसवनी इकाई घोसी का गन्दा पानी भी इसी ड्रेन में गिराया जाता है , जाम के कारण इन गांवों में भयंकर प्रदूषण फैला हुआ है जिससे कई संक्रामक बिमारियों के फैलने की आशंकाएं हैं। जिसकी सूचना बसपा नेता चंद्रशेखर ने उपजिलाधिकारी घोसी समेत इससे संबंधित सभी अधिकारियों को ज्ञापन सौंपकर सूचित किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *