अंधेरे में ही कट रही बरसात की उमस भरी भीषण गर्मी

बापू नंदन मिश्र

रतनपुरा (मऊ) विकासखंड रतनपुरा के भीमपुरा मोड के बसनही नाले पर स्थित ट्रांसफार्मर जिससे बसनहीं नाले से लेकर मऊ- बलिया रोड पर स्थित फंतासिया वाटर पार्क तक के लगभग सैकड़ों दुकानों एवं घरों में विद्युत आपूर्ति की जाती है। यहाँ की व्यवस्था विगत दो महीने से पूरी तरह अस्त-व्यस्त चल रही है ।ग्रामीणों की मानें तो विगत जून माह से लेकर अब तक 4 ट्रांसफार्मर जल चुके हैं।

स्थिति की भयावहता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि विगत बुधवार कि मध्य रात्रि ट्रांसफार्मर पुनः जल गया। जिसको स्थानीय प्रधान प्रतिनिधि एवं भाजपा नेता रामाश्रय मौर्य तथा व्यापार मंडल के अध्यक्ष के अथक प्रयास एवं नागरिकों के सहयोग से शनिवार की शाम मरम्मत करा कर पुनः लाया जा सका ।मरम्मत में गड़बड़ झाले की स्थिति यह है कि शुक्रवार की शाम 4:00 बजे जनपद मुख्यालय स्थित मरम्मत केन्द्र से भेजा गया ट्रांसफार्मर लगभग 40 घंटे बाद 20 किलोमीटर दूरी पर स्थित रतनपुरा पहुंचा और इसके बाद जब उस ट्रांसफार्मर को लगाया गया तो चार्ज में लगते ही वह पुनः खराब हो गया। पिछले लगभग 6 दिनों से भीषण उमस एवं गर्मी में जीने को मजबूर रतनपुरा के लोग अपनी किस्मत को कोष रहे हैं तो कभी विद्युत विभाग की लापरवाही को। विद्युत विभाग अभी कितने दिनों तक रुलाएगा।

इस बात का उत्तर किसी के पास नही है। विद्युत व्यवस्था की बदहाली का आलम यह है कि किस ट्रांसफार्मर से कितने कनेक्शन हैं, उस पर कितना लोड है, कितने वाट के ट्रांसफार्मर की यहाँ जरुरत है इसकी सुधि लेने वाला कोई नही।पूर्व में स्वीकृत क्षमता वाले ट्रंसफार्मर कनेक्शन बढ़ने के हिसाब से बढ़ने चाहिए किंतु जिम्मेदार अधिकारी इस पर मौन हैं जिसका खामियाजा उपभोक्ताओं को भोगना पड़ता है। इससे संबंधित क्षेत्र के जेई का कोई लेना देना नहीं है। जिससे कि लोड को ध्यान में रखकर उक्त ट्रांसफार्मर की क्षमता को बढ़ाया जा सके। इसके लिए ग्रामीणों को एड़ी चोटी लगाकर अधिकारियों को खुश करना पड़ता है ,तब जाकर ट्रांसफार्मर के क्षमता वृद्धि होती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *