ज़मीन की दलाली की कमाई अकेले क्यों उड़ाई ? इस बात को लेकर भाजपा के दो नेताओं में हुई जमकर लड़ाई, सरेराह जमकर हुआ ढिशुम ढिशुम

रोबिन कपूर

फर्रुखाबाद। ज़मीन की दलाली के मामले में दो भाजपा नेताओं में जमकर जूतमपैजार हुई। बीच सड़क पर हुई इस थप्पड़, जूता, लात, घुसा की सभी क्रिया और प्रतिक्रिया किसी के कैमरे में कैद हो गई और सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो गई। पार्टी की भद पिटते देख जिलाध्यक्ष ने मामले के संज्ञान नही होने की बात कही है। साथ ही कहा है कि घटना अगर हुई है तो पुलिस शिकायत पर निष्पक्ष कार्यवाही होगी। वही इस जूतमपैजार में पिटे भाजपा नेता ने नरम दल और गरम दल की बात कहकर बात को वही समाप्त कर दिया है।

घटना के सम्बन्ध में मिली जानकारी के अनुसार भाजपा के जिला पदाधिकारी व शहर के माननीय के खासमखास को पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष रहे मंत्री के करीबी ने लात-घूंसों और डंडों से पीट दिया। भाजपा जिला पदाधिकारी के कपड़े फट गए। साथ में मौजूद नगर पदाधिकारी ने उन्हें मुश्किल से बचाकर घर पहुंचाया। पिटे भाजपा नेता ने पीटने वाले नेता को परिवार का गर्म दल का सदस्य बताते हुए उदारवादी आचरण अपनाकर कोई कार्रवाई न करने की बात कही।

मिली जानकारी के अनुसार भाजपा जिला कार्यालय पर दोपहर 12 बजे बैठक बुलाई गई थी। बैठक साढ़े तीन बजे बैठक खत्म हुई, तो शहर के एक माननीय के राइटहैंड कहे जाने वाले जिला कार्यकारिणी पदाधिकारी बाइक से अपने घर डिग्गीताल जा रहे थे। उनके साथ भाजपा के एक नगर पदाधिकारी भी थे। जैसे ही वे मोहल्ले की गली में पहुंचे, रास्ते में खड़े एक मंत्री के खासमखास पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष ने साथी की मदद से उनको रोक लिया। बाइक रुकते ही उन्होंने हमला बोल दिया। पदाधिकारी की लात-घूंसों, डंडों से जमकर पिटाई की।

इस दौरान नगर पदाधिकारी बीच बचाव करते रहे। आसपास के तमाम लोग तमाशबीन बने रहे। काफी मशक्कत के बाद नगर पदाधिकारी ने उन्हें बचाया। तब तक भाजपा नेता की शर्ट और बनिया फट चुकी थी। उन्हें घर पहुंचाया गया। बताया जाता है कि पिटे जिला पदाधिकारी और पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष साथ-साथ प्रापर्टी की खरीद-फरोख्त करते हैं। दोनों में पिछले महीने हुई दलाली के पैसे को लेकर विवाद चल रहा है। इसी विवाद में पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष ने उनकी पिटाई कर दी। सत्तारूढ़ दल के बड़े नेताओं में सरेआम हुई जूतमपैजार को लेकर लोगों में खासी चर्चा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *