आजमगढ़ में सर्राफा कारोबारी भाइयो से असलहे के बल पर लूट, जाने आखिर क्यों मान रही पुलिस लूट की घटना को संदिग्ध

संजय ठाकुर

आजमगढ़। जनपद के फूलपुर कोतवाली क्षेत्र के पलिया गांव के पास असलहे से लैस स्कार्पियो सवारों द्वारा सराफा कारोबारी भाइयों पर हमला कर लाखों के जेवरात लूट कर फरार हो जाने की बात सामने आ रही है। घटना में एक भाई जहां सिर पर तमंचे की बट लगने से घायल है तो वहीं दूसरा सदमे में है। पुलिस लूट की इस घटना को संदिग्ध मान रही है क्योकि समाचार लिखे जाने तक न तो घायल ठीक से घटना की जानकारी दे पा रहा है और न ही उसका दूसरा भाई जो सदमे में बताया जा रहा है। समाचार लिखे जाने तक इस घटना के संबध में कोई तहरीर भी पुलिस को प्राप्त नही हुई है।

घटना के सम्बन्ध में प्राप्त समाचारों के अनुसार जौनपुर जिले के शाहगंज कोतवाली अंतर्गत पुराना चौक मुहल्ला निवासी छोटे लाल सेठ के पुत्र अमित सोनी की अंबारी बाजार में जेवरात की दुकान है। प्रतिदिन की भांति शनिवार की देर शाम अमित अपनी दुकान बंद कर भाई अजीत सोनी के साथ बाइक से घर लौट रहा था। बाइक अमित चला रहा था और अजीत जेवरात भरे बैग को लेकर पीछे बैठा था।

बताया जाता है कि अंबारी चौक के पास पलिया बाजार में स्कार्पियो सवार असलहों से लैस बदमाशों ने ओवरटेक कर उन्हें रोक लिया। दोनों भाई कुछ समझ पाते कि एक बदमाश ने असलहा दिखाते हुए जेवरात भरे बैग को मांगा। अजीत ने जब बैग नहीं दिया तो बदमाश ने तमंचे की मुठिया से प्रहार कर उसे घायल कर दिया। इसके बाद जेवरात भरे बैग लूटकर भाग निकले।

घायल अजीत को लेकर अमित तत्कल सीएचसी शाहगंज पहुंचा, जहां प्राथमिक इलाज के बाद उसे रेफर कर दिया गया। लूट कितने की हुई है यह स्पष्ट नहीं हो सका है। स्थानीय लोगों के अनुसार लूट लाखों में है। वही दूसरी तरफ पुलिस इस लूट की घटना को संदिग्ध मान रही है। इस सम्बन्ध में एसपी ग्रामीण ने पत्रकारों से बात करते हुवे बताया है कि लूट की घटना संदिग्ध लग रही है। क्योंकि घटना सवा छह बजे की है और घायल साढ़े सात बजे सीएचसी पहुंचा। इसके बाद पुलिस को सूचना दी। रात 10 बजे तक पीड़ित व पुलिस की मुलाकात ही नहीं हो सकी है। अभी कोई तहरीर भी नहीं मिली है। फिलहाल पुलिस अपने स्तर से जांच पड़ताल में जुटी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *