रामपुर के अंतिम शासक नवाब रज़ा अली खां के वर्साओ ने किया मूल्यांकन पर आपत्ति दाखिल

मनोज गोयल

रामपुर। रामपुर के अंतिम शासक नवाब रज़ा अली खां की संपत्तियों के मूल्यांकन पर नवाब साहब के वरिसैन की तरफ से आपत्तियां दाखिल हो चुकी है। रामपुर के अंतिम शासक नवाब रजा अली खां की संपत्ति के विभाजन हेतु बने कमीशन की रिपोर्ट पर नवाब साहब के वर्सा ने अपत्तिया दाखिल करते हुवे कहा है कि संपत्ति का मूल्याकन कम किया गया है। मूल्यांकन रिपोर्ट पर उनकी बेटी मेहरुन्निसा बेगम की ओर से भी कोर्ट में आपत्ति दर्ज कराई गई है।

गुरुवार को कोर्ट में दाखिल की आपत्ति में उन्होंने कहा है कि नवाब की संपत्ति की कीमत कम आंकी गई है। साथ ही कुछ हिस्से को मूल्यांकन से बाहर रखा गया, जो गलत है। उनका कहना है कि खासबाग से जुड़ी संपत्ति में शामिल कुछ जमीन का मूल्यांकन नहीं किया गया है। उन्होंने मूल्यांकन रिपोर्ट को अपूर्ण बताया है। रामपुर के अंतिम शासक नवाब रजा अली खां की संपत्ति के विभाजन की प्रक्रिया सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर चल रही है। यह प्रक्रिया जिला जज की अदालत की देखरेख में पूरी होनी है। कोर्ट के आदेश पर नवाब की चल और अचल संपत्ति का मूल्यांकन कराया गया है, जो 26।50 अरब रुपये से अधिक है। नवाब की संपत्ति की मूल्यांकन रिपोर्ट पर कोर्ट ने आपत्तियां मांगी थीं।

गुरुवार को आपत्ति दर्ज कराए जाने का आखिरी दिन था। गुरुवार को नवाब की बेटी मेहरुन्निसा ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से मूल्यांकन रिपोर्ट पर आपत्ति दर्ज कराई। इसके अलावा नवाब के पौत्र काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां की ओर से भी एक अर्जी दाखिल की गई। नवेद मियां इससे पहले सोमवार को मूल्यांकन रिपोर्ट पर अपनी आपत्ति दर्ज करा चुके हैं।

नवेद मियां ने गुरुवार को कोर्ट में अपने अधिवक्ता संदीप सक्सेना के माध्यम से दाखिल अर्जी में कहा है कि खासबाग के गाटा संख्या एक रकबा 1.037 में कुछ लोगों के नाम गलत ढंग से शामिल किए गए हैं। उनका कहना है कि कमीशन की रिपोर्ट में तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया गया है। कोर्ट में दाखिल नक्शे में ग्राम सईदनगर हरदोपट्टी के गाटा संख्या एक रकबा 1.037 अंतिम शासक की संपत्ति का हिस्सा है, लेकिन कमीशन रिपोर्ट में इसे शामिल ही नहीं किया गया है। विभागीय त्रुटि से इसमें कुछ लोगों के नाम दर्ज हो गए हैं। यह जमीन खासबाग का हिस्सा है और अंतिम शासक के वारिस ही काबिज हैं। उन्होंने न्यायालय से मांग की है कि ग्राम सईदनगर हरदोपट्टी के गाटा संख्या 1 रकबा 1,037 जमीन में त्रुटिवश दर्ज हुए नामों को राजस्व प्रशासन से रिपोर्ट मंगा कर हटवाया जाए।

नवाब की नवासी तलत फातिमा हसन की ओर से सोमवार को मूल्यांकन रिपोर्ट पर दर्ज कराई आपत्ति पर नवाब के पौत्र मोहम्मद अली खां उर्फ मुराद मियां और उनकी बहन निकहत आब्दी की ओर से प्रति आपत्ति दाखिल की गई है। इसमें कहा गया है कि सर्वे रिपोर्ट अपूर्ण है। कृषि भूमि और फसल आदि का मूल्य विभाजन क्षेत्राधिकार से बाहर है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *