मैदागिन चौराहे पर लगी पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की प्रतिमा पर कालिख पोतने पर फूटा कांग्रेसियों का गुस्सा, ज्ञापन देकर किया 48 घंटे में कार्यवाही की मांग

दयानंद तिवारी

वाराणसी – एक तरफ जहा शहर में देव दीपावली पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काशी आगमन की तैयारिया अपने आखरी चरण में है, वही दूसरी तरफ किसी शरारती अराजक तत्वों ने अज्ञात समय पर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की मैदागिन चौराहे पर लगी प्रतिमा पर कालिख लगा कर उनका अपमान करने का प्रयास किया है। प्रकरण की जानकारी मिलते ही कांग्रेस जनों में आक्रोश फुट पड़ा और देखते देखते कांग्रेस नेताओं का जमावड़ा मैदागिन चौराहे पर होने लगा।

घटना के सम्बन्ध में प्राप्त जानकारी के अनुसार मैदागिन चौराहे पर लगी पूर्व प्रधानमंत्री  राजीव गांधी की प्रतिमा पर किसी ने कालिख पोत दिया था। सुबह होते ही यह बात जंगल में आग की तरह फ़ैल गई और मौके पर कांग्रेस नेताओं की भीड़ इकठ्ठा होना शुरू हो गई। इस घटना से कांग्रेस नेताओं में आक्रोश दिखाई दे रहा था। जिसके खिलाफ कांग्रेस नेताओं ने पुलिस से जमकर कहासुनी किया। उनका कहना था कि जब 24×7 के तर्ज पर मैदागिन चौराहे पर पुलिस की ड्यूटी रहती है तो आखिर ये घटना कैसे हो गई।

कांग्रेस नेता राघवेंद्र चौबे के नेतृत्व में कांग्रेस पदाधिकारियों ने प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन सौंपते हुवे चेतावनी दिया है कि यदि 48 घंटे में दोषियों की पहचान करके कार्रवाई नहीं हुई, तो कांग्रेस आंदोलन को बाध्य होगी। बताते चले कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को काशी आ रहे हैं। यहां वह देव दीपावली की अलौकिक छटा देखने के साथ ही बुद्ध की तपोभूमि सारनाथ भी जाएंगे। पीएम के आगमन से पूर्व काशी में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए है। इस कार्यक्रम के मद्देनज़र जनपद से बाहर की भी फ़ोर्स बुलवाई गई है। ऐसे में शहर के बीच उस इलाके में जहाँ से कुछ कदम की दूरी पर बाबा दरबार है, जहाँ पीएम दर्शन पूजन को जाएंगे, पूर्व पीएम की प्रतिमा पर कोई कालिख पोत गया, ये सुरक्षा-व्यवस्था पर सवाल खड़े करता है। वही नाईट अफसर की कार्यशैली पर भी कांग्रेस नेताओं ने प्रश्नचिन्ह लगाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *