वाराणसी – सेल्फी बनी नाव पलटने का कारण, 9 की बचाई गई जान, 2 अभी भी लापता

ए जावेद/ मो0 सलीम

वाराणसी। वाराणसी में रविवार की शाम एक नौका पर सवार 11 लोग को लेकर नौका पानी में पलट गई। घटना का कारण नौका सवार लोगो द्वारा सेल्फी के लिए होड़ होना बताया जा रहा है जिससे नौका असंतुलित हो गई थी। नाव में कुल 11 लोग सवार थे। अस्सी घाट से दशाश्वमेध की ओर 11 सवारियों को लेकर निकली का हादसा भदैनी घाट के सामने हुआ। सूचना पर आनन फानन में एनडीआरएफ समेत अन्य रेस्क्यू टीमों ने नौ लोगों को बचा लिया। मगर नाव में पांच छात्रों के ग्रुप में दो छात्र अभिषेक मौर्य और विशाल सिंह अभी भी लापता हैं। बताया जा रहा है कि सभी पांच छात्र कई सालो बाद मिले थे।

लापता छात्रों की तलाश में देर रात तक टीमें लगी रहीं। गंगा की तलहटी में सैकड़ों मीटर तलाश करने के बाद भी रेस्क्यू टीम के हाथ निराशा ही लगी। हादसे की सूचना पर देर रात डीएम कौशल राज शर्मा भदैनी घाट पहुंचे। डीएम ने रेस्क्यू में लगीं टीमों से तलाश के बारे में बारीकी से पूछताछ की। रात अधिक होने से लापता छात्रों की तलाश करना संभव नहीं होने से डीएम ने सुबह दोबारा रेस्क्यू के निर्देश दिए। डीएम ने बताया कि टीमें सुबह फिर गंगा में छात्रों की तलाश के लिए उतरेंगी।

बता दें कि रेस्क्यू में एनडीआरएफ, पीएसी एवं जल पुलिस की टीमें लगाई गई थीं। रेस्क्यू टीमें कई जगह जाल लगाकर भी तलाश कर रही थीं। काफी प्रयास के बाद भी देर रात तक डूबे साथी अभिषेक मौर्य और विशाल सिंह का सुराग नहीं लग सका। रात में गंगा की गहराई तक तलाश करना संभव नहीं होने से रेस्क्यू टीम ने सुबह दोबारा तलाश करने का फैसला लिया।  अब रेस्क्यू टीम सुबह के उजाले का इंतज़ार कर रही है। जैसे ही सूरज की किरणों से पानी में रोशनी फैलेगी रेस्क्यू टीम अपना काम दुबारा शुरू कर देगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *