किसान संगठनो ने सरकार का प्रस्ताव किया ख़ारिज, पुरे देश में होगा विरोध प्रदर्शन

आफताब फारुकी

नई दिल्ली: कृषि कानूनों में संशोधनों को लेकर मोदी सरकार के प्रस्ताव आंदोलनरत किसानों को मंजूर नहीं हैं। किसानों ने आज प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कहा कि हमें जो प्रस्ताव मिला है उसे हम पूरी तरह से रद्द करते हैं। हम जियो के सारे मॉल्स का बहिष्कार करेंगे। हम 14 तारीख को ज़िला मुख्यालयों को घेरेंगे। पूरे देश में विरोध प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि 12 दिसंबर को जयपुर- दिल्ली हाईवे को रोकेंगे।

किसानों ने कहा कि वे 14 दिसंबर को पूरे देश में विरोध प्रदर्शन करेंगे। वे 12 दिसंबर को पूरे देश के टोल प्लाज़ा जाम कर देंगे। इसी दिन दिल्ली-जयपुर हाईवे को बंद करेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हाईवे इससे पहले भी बंद किया जा सकता है। किसान संगठन के नेता डॉ दर्शनपाल ने कहा कि हम रिलायंस के सारे मॉलों का बहिष्कार करेंगे।

नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर बुधवार को 14वें दिन भी किसानों का आंदोलन जारी है। केंद्र सरकार और किसानों की मंगलवार रात हुई बैठक में सरकार द्वारा किसानों को प्रस्ताव भेजे जाने की बात कही गई। सूत्रों के मुताबिक सरकार ने जो प्रस्ताव तैयार किया है उसके अनुसार, MSP खत्म नहीं होगा। सरकार MSP को जारी रखेगी और इसके लिए कानून बनाया जाएगा।

सरकार की ओर जारी किए गए प्रस्ताव के मुताबिक, मंडी कानून APMC में बड़ा बदलाव होगा। प्राइवेट प्लेयर्स को रजिस्ट्रेशन कराना होगा। सरकार अब कॉन्ट्रैक्ट फॉर्मिंग में किसानों को कोर्ट जाने का अधिकार भी देगी। अलग फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन को भी मंजूरी मिलेगी। प्राइवेट प्लेयर्स पर टैक्स लगाने को मंजूरी दी जाएगी। फिलहाल सरकार इलेक्ट्रिसिटी अमेंडमेंट बिल पेश नहीं करेगी। इसमें बदलाव किए जाने के बाद इसे सदन में पेश किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *