महावन में युवक का शव मिला, वृंदावन में वृद्धा का जला शव मिलने से सनसनी

रवि पाल

मथुरा। रविवार को महावन के एक स्कूल के पीछे एक युवक का शव बरामद हुआ है। वहीं वृंदावन के आश्रय सदन में एक बंगाली महिला का जला शव मिला। महावन के श्रीकृष्ण इंटर कॉलेज के पीछे युवक की लाश मिलने से सनसनी फैल गई। शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है। शव के पास से फाॅरेंसिक टीम ने जो साक्ष्य जुटाए हैं उन्हें लेकर पुलिस टीमें जांच में जुट गई हैं। मृतक युवक के शिर पर चोट के निशान हैं। इससे ऐसा प्रतीत हो रहा है किसी ने हत्या कर शव को ठिकाने लगाने का प्रयास किया है।

वहीं पश्चिम बंगाल के गोपालपुरा जिले के गाँव बांकुड़ा निवासी गायत्री डे (72) वृंदावन की चैतन्य विहार कॉलोनी स्थित सीताराम महिला आश्रय सदन में पिछले नौ साल से रह रही थीं। सुबह करीब साढ़े नौ बजे उनका 70 फीसद जला हुआ शव छत पर बने शेड में पड़ा मिला। महिला के तन पर कपड़े नहीं थे। आश्रय सदन प्रभारी संतोष मिश्रा ने बताया, जिस कक्ष में गायत्री डे रहती थीं, उसमें कुल पंद्रह महिलाएं रहती हैं। शनिवार की शाम सभी महिलाओं का टीवी और कोविड-19 का टेस्ट कराया गया था।

छत पर गायत्री डे के पहुंचने और जलने की जानकारी उनको सुबह हो सकी। मौके पर पहुँचे जांच अधिकारियों को पूछताछ में अन्य साथी निराश्रित महिलाओं ने बताया कि, उन्होंने किसी प्रकार की कोई चीख-पुकार नहीं सुनी। सुबह जब महिलाएँ छत पर धूप सेकने को गईं, तब गायत्री डे की मौत का पता चला। पुलिस को शव के पास से एक माचिस भी मिली है। फोरेंसिक टीम ने भी घटनास्थल से महिला की मौत के मामले को लेकर साक्ष्य एकत्र किए। प्रथम दृष्टया महिला की हत्या कर शव को जलाए जाने की आशंका है।

प्रोबेशन अधिकारी श्याम अनुराग रस्तोगी ने बताया, घटना की जांच की जा रही है। जांच और पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद ही निराश्रित महिला की मौत की सही जानकारी हो पाएगी।  केशवधाम पुलिस चौकी प्रभारी राजवीर सिंह ने बताया, महिला की मौत को लेकर जल्दबाज़ी में कुछ भी नहीं कहा जा सकता है। महिला के गाँव बांकुड़ा में उसकी बेटी फल्गुनी को घटना से अवगत करा दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *