दरिंदगी की इन्तेहा – पांच साल की मासूम के साथ दो नाबालिग सहित तीन ने किया दुष्कर्म, ग्रामीणों ने दो को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले

ज़ीशान अली

जालौन. इसको दरिंदगी कहेगे या फिर परवरिश में कमी कहा जायेगा। महज़ खेलने पढने की उम्र में ही दो लडको को पुलिस ने रेप के मामले में गिरफ्तार किया है। शायद इसको दरिंदगी ही कहा जायेगा कि महज़ पांच साल की मासूम बच्ची के साथ दो नाबालिग सहित कुल तीन लोगो ने बलात्कार किया है।

मामला जालौन जिले में आटा थाना क्षेत्र के एक गांव का है जहा पर शाम को पांच साल की अनुसूचित जाति की बच्ची के साथ दो नाबालिगों समेत तीन ने सामूहिक दुष्कर्म किया। बच्ची को हालत बिगड़ने पर झांसी मेडिकल कालेज रेफर किया गया। ग्रामीणों ने नाबालिग दोनों आरोपियों को पकड़ लिया और इनमें से एक को जूतों की माला पहनाकर पीटते हुए जुलूस निकाला।

पुलिस ने दोनों नाबालिगों को हिरासत में ले लिया है। गांव निवासी किसान ने पुलिस को बताया कि बुधवार की शाम उसकी पांच साल की बच्ची घर के बाहर खेल रही थी, तभी गांव के दो लड़के 15 वर्षीय और दूसरा 12 वर्षीय आए और उसकी बेटी को बहला फुसला कर 15 साल वाला लड़का अपने घर ले गया।

जहां उनका 25 वर्षीय साथी युवक भी मौजूद था। वहां तीनों ने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। रोती बिलखती बच्ची जब उनके घर से बाहर निकली तो उसकी हालत देख ग्रामीणों को शक हुआ और फिर उन्होंने दोनों नाबालिगों को पकड़ लिया, जबकि तीसरा मौके से फरार हो गया।

ग्रामीणों ने घटनास्थल घर वाले 15 वर्षीय लड़के को जूतों की माला पहनाकर पीटते हुए जुलूस निकाला। उधर, परिजन बच्ची को लेकर पहले सीएचसी और वहां से जिला अस्पताल उरई लेकर गए, जहां से गंभीर हालत में बच्ची को झांसी मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया।

उधर, अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. अवधेश सिंह ने बताया कि बच्ची के परिजन भले ही तीन के खिलाफ तहरीर दे रहे हैं लेकिन शुरूआती जांच में दो नाबालिग आरोपियों के ही घटना में शामिल होने की बात लग रही है। आरोपी नाबालिग की पिटाई की पुलिस को जानकारी नहीं है। फिलहाल रात के समय बच्ची को जिला अस्पताल से झांसी रेफर कर दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *