विधवा की मजबूरी का लाभ उठा रहा था हारून, मिली मौत

रवि पाल

मथुरा। विधवा के साथ प्रेम प्रसंग चला कर उसकी मजबूरी का लाभ उठा रहे हारून को आखिर में मौत मिली। 16 दिसम्बर की रात को गोवर्धन के एक गैस्ट हाउस में उसकी हत्या कर दी गई। सुबह पुलिस को गेस्ट हाउस के कमरे में शव पड़े होने की सूचना मिली। पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर हत्या का खुलासा कर दिया है।

हारून की हत्या में गिरफ्तार विधवा प्रेमवती तथा हारून एक ही गांव तसई थाना कठूमर जिला अलवर राजस्थान के रहने वाले थे। प्रेमवती के पति रामप्रसाद की मौत हो चुकी थी। हारून और प्रेमवती एक ही ईंट भट्टे पर काम करते थे। यहीं दोनों के बीच प्रेम प्रसंग हुआ। हारून भी शादी शुदा था और उसके छह संतान हैं। जबकि महिला के पास दो संतान हैं। मथुरा पुलिस के मुताबिक हारून गोवर्धन के उर्मिला गैस्ट हाउस में प्रेमवती के साथ आकर रूका था।

वह इस गैस्ट हाउस में पहले भी आती रही थी। पुलिस के मुताबिक विधवा प्रेमवती  के जेवर आदि भी हारून ने अपने पास रख लिये थे। वह वापस नहीं कर रहा था। हारून के साथ प्रेमवती के प्रेम प्रसंग की चर्चा होने लगी थी जिससे वह दुखी थी। गैस्ट हाउस में रात को प्रेमवती ने हारून को पहले नशा कराया और जब वह नशे में हो गया तो तौलिया से गला घौंट कर हत्या कर दी। पुलिस ने गाँठोली बम्बा पुलिया के पास से हत्यारोपी प्रेमवती को गिरफ्तार कर लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *