गाजीपुर पहुचे बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम, लालू के लाल तेजस्वी यादव ने कहा – कृषि क्षेत्र के निजीकरण की साजिश के तहत आया है कृषि बिल

संजय ठाकुर/शहनवाज़ अहमद

गाजीपुर. बिहार राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम और बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव आज एक वैवाहिक समारोह में शामिल होने के लिए जनपद आये. इस दरमियान उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुवे कहा कि नए कानून बनाकर सरकार कृषि क्षेत्र के निजीकरण की साजिश रच रही है। अब किसानों की आय कैसे दोगुनी की जाए इस पर विचार करने की जरूरत है। बिहार में किसानों की मंडी समाप्त कर दी गई है। कृषि क्षेत्र के निजीकरण से किसानों का शोषण होगा।

पत्रकारों से बातचीत में तेजस्वी ने कहा कि नए कृषि कानूनों को थोपा जा रहा है। केंद्र सरकार कृषि क्षेत्र के निजीकरण की जमीन तैयार कर रही है। सरकार की चाल को देश के किसान समझ रहे हैं। यही कारण है कि टिकरी बार्डर, सिंधु बार्डर समेत देश के कोने-कोने में किसान आंदोलित हैं। हर तरफ नए कानूनों का विरोध किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार पहले किसानों को लाभ पहुचाने उनकी आय दो गुना करने की बात कर रही थी। अब किसानों के अधिकारों का हनन कर रही है। नया कानून लाकर उन्हें परेशान किया जा रहा है। अनाज मंडियों तक नहीं पहुंच रहा है। जबरदस्ती थोपे गए कानून से विशेष लोगों को जरूर फायदा पहुंच रहा है।

तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में सिंचाई एक बड़ा मसला है। अब किसानों का शोषण शुरू हो गया है। सड़क पर प्रदर्शन जारी है। अभी आगे क्या-क्या होगा यह देखना बाकी है। इस मौके पर समाजवादी पार्टी के जंगीपुर विधायक डा. वीरेंद्र यादव, सपा जिलाध्यक्ष रामधारी यादव, अनिल यादव, दिनेश सिंह यादव व चंद्रिका यादव आदि उपस्थित रहे। इसके बाद बिहार विस के विरोधी दल के नेता का काफिला शहर के तुलसी सागर स्थित गहमर कुंज से रवाना वापस पटना के लिए रवाना हो गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *