वाराणसी – गोलगड्डा पर चला विशेष अतिक्रमण अभियान, अतिक्रमण करने वालो को मिला पक्का मकान, सीधे करवाया जा रहा है शिफ्ट

महताब आलम

वाराणसी। एडीएम सिटी और एसडीएम सदर के साथ आदमपुर और जैतपुरा पुलिस आज सुबह गोलगड्डा पहुची। साथ में कई लोडर थे। पहले तो इतनी फ़ोर्स और अधिकारियो को देखकर अवैध अतिक्रमण के तौर पर सड़क किनारे रह रहे लोगो में खलबली मच गई कि उनका ये आशियाना भी इस कड़क सर्द रातो में छीन जायेगा। मगर जब अधिकारियो ने उनको हकीकत बताया तो उनके चेहरों पर मुस्कान आ गई।

वाराणसी जिला प्रशासन की पहल पर आज एसडीएम सदर और एडीएम सिटी के निर्देशन में गोलगड्डा स्थित मलीन बस्ती बना कर अवैध रूप से रह रहे परिवारों को आज पक्के मकानों में शिफ्ट किया जा रहा है। इस शिफ्टिंग में भी उन परिवारों का कोई खर्च नही हो रहा है। उनके सामानों को ले जाने के लिए प्रशासन ने लोडर की भी व्यवस्था किया है। एक एक परिवारों के सामानों को एक लोडर पर रखकर उनको उनके पक्के मकानों तक पहुचाया जा रहा है।

शायद ये इतिहास में पहली बार है कि किसी अतिक्रमण को हटाने के लिए उसको दूसरी जगह पक्के मकानों में उनके खुद के आवास तक शिफ्ट किया जा रहा है। वरना अमूमन यही होता था कि नगर निगम की गाड़ियां आती थी। बुलडोज़र गरजते थे। आंसुओ के सैलाब में मानवता सिसकती थी और अतिक्रमण मुक्त स्थान हो जाता था। भले ही चंद रोज़ हमको वह स्थान साफ़ और चौड़ा दिखाई दे मगर उन साफ़ सफाई और चौड़ीकरण के दरमियान सिसकती इंसानियत और आंसुओ का एक सैलाब भी रहता है। जो शायद हमारी रोज़मर्रा की तेज़रफ़्तार ज़िन्दगी के रफ़्तार की धुंध में कही खो जाती है।

मगर पहली बार वाराणसी के इतिहास में ऐसा हुआ है कि खानाबदोशो की जैसी ज़िन्दगी गुजारने वाले इन अतिक्रमणकारियों को इंसानियत के नज़र से देखते हुवे उनके रहने का पहले इंतज़ाम पुख्ता किया गया है और उसके बाद फिर उनके द्वारा किये गए अतिक्रमण को खाली करवाया जा रहा है। आम जनता प्रशासन के इस प्रयास की भूरी भूरी प्रशंसा करती दिखाई दे रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *