अपराध से करता है जिसका पूरा परिवार प्यार, रवि श्रीवास्तव के हाथो हुआ रिजवान अत्ता गैंग के दो अन्य सदस्यों सहित गिरफ्तार, जाने रिजवान अत्ता के का अपराधिक कुनबा

आदिल अहमद / मो0 कुमेल

कानपुर। चरस, गांजा, हिरोईन के तस्करों की कमर पर आज कानपुर पुलिस ने तगड़ा वार करते हुवे, बड़े अपराधिक इतिहास के धनी, मादक पदार्थो की तस्करी में बड़ा नाम रिजवान अत्ता को गिरफ्तार कर लिया है। थाना रेल बाज़ार ने रिजवान अत्ता सहित उसके एक महिला और एक पुरुष अन्य साथी को पकड़ा है। बताते चले कि रिजवान अत्ता गैंग के साथ रवि श्रीवास्तव की इसके पहले मुठभेड़ हो चुकी है। वर्ष 2018 में जब रवि श्रीवास्तव चकेरी में पोस्टेड थे तो रिजवान अत्ता गैंग से उनकी मुठभेड़ हुई थी, जिसमे रिजवान अत्ता का साथी रणजीत घायल हुआ था और पुलिस के हत्थे चढ़ गया था। वही दूसरी तरफ इस मुठभेड़ में रिजवान अत्ता अँधेरे का फायदा उठा कर फरार हो गया था। आज दो वर्षो से अधिक समय के बाद रिजवान अत्ता आखिर रवि श्रीवास्तव के हाथे चढ़ ही गया।

गिरफ़्तारी के सम्बन्ध में प्राप्त समाचारों के अनुसार रेलबाज़ार पुलिस ने रिजवान अत्ता, उसके साथी कलीम के साथ महिला साथी ज़रीना को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में चरस, अवैध कट्टा, कारतूस और एक गलत नंबर प्लेट की मोटर सायकल बरामद किया है। रिजवान अत्ता का परिवार प्रदेश में मादक पदार्थ तस्करी का काम करता है। खुद रिजवान अत्ता के ऊपर 30 अपराधिक मामले दर्ज है। इसके गैंग में महिला और पुरुष सभी मेंबर है। इसके गैंग का काम नकबजनी, चोरी, लूट, भाड़े पर हत्या आदि अपराधिक कृत्य है।

कौन है गैंग का सरगना

रिजवान अत्ता के गैंग की सरगना उसकी माँ रुखसाना बेगम है। रुखसाना बेगम के ऊपर कुल 21 अपराधिक मामले पंजीकृत है। इसके अलावा पूरा कुनबा ही इस गैंग के सदस्यों के तौर पर है। जिसमे रुखसाना बेगम की बहु और रिजवाना अत्ता की पत्नी रुकैया, रिजवान अत्ता का ससुर नूर मुहम्मद, सास ज़रीना सहित रेशमा, इरफ़ान उर्फ़ छोटे आदि गैंग के अन्य सदस्य है। सूत्रों की माने तो रिजवान अत्ता प्रदेश के अन्य जनपदों में भी चरस सप्लाई का काम करता है।

रईस बनारसी के साथ जुडा था नाम

शहर में चर्चाओं के अनुसार रिजवान अत्ता ने अपनी माँ के मुख्य कारोबार चरस तस्करी के काम को आगे बढाया था। रिजवान अत्ता का नाम कुख्यात शूटर रईस बनारसी के साथ भी जोड़ा जाता रहा है। रिजवान अत्ता की गिरफ़्तारी के लिए पुलिस काफी समय से प्रयासरत थी। इस दरमियान रिजवान अत्ता के ठिकानों पर पुलिस कई बार पहले भी छापेमारी कर चुकी है। मगर रिजवान अत्ता हत्थे नही चढ़ता था। इस बार सॉलिड मुखबिर की सुचना के आधार पर रिजवान अत्ता अपने गैंग के दो अन्य सदस्यों के साथ गिरफ्तार हुआ है।

क्या हुआ बरामद

रिजवान अत्ता के पास से पुलिस को एक फर्जी नम्बर प्लेट की अपाचे बाइक, 3 किलो 600 ग्राम चरस और एक अदद तमंचा मय 3 जिंदा कारतूस बरामद हुआ है। वही ज़रीना के पास से पुलिस को 1 किलो 200 ग्राम चरस तथा कलाम के पास से 1 किलो 400 ग्राम चरस सहित एक कट्टा और दो जिंदा कारतूस बरामद हुआ है। कुल मिलाकर तीनो अभियुक्तों के पास से 6 किलो 200 ग्राम चरस बरामद हुई है।

कौन था पुलिस टीम में

इस गिरफ़्तारी करने वाली टीम में इस्पेक्टर रेल बाज़ार रवि श्रीवास्तव, एसआई प्रदीप मौर्या, मोहित चौधरी, सुनील शर्मा, का० दुर्गेश मनी आदर्श, कफील अहमद, विपिन कुमार, अनुज भाटी महिला का0 ज्योति, कल्पना शामिल रही। पुलिस रिजवान की साथियों सहित गिरफ़्तारी और बरामद माल के साथ वैधानिक कार्यवाही कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *