कथित रेप पीडिता, फर्जी रेप/पाक्सो का मुकदमा लगवाने वाले गैंग के सरगना राशिद के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ी गई, चंदौली जनपद के जलीलपुर चौकी पर जारी है पैरवी

ए जावेद / ईदुल अमीन

वाराणसी। वाराणसी के दशाश्वमेघ थाने पर अपने साथ कथित रेप की घटना बताते हुवे मुकदमा दर्ज करवाने दौड़ रही कथित रेप पीडिता आज भोर में चंदौली पुलिस के द्वारा आपत्तिजनक स्थिति में फर्जी रेप/पाक्सो का केस दर्ज करवाने वाले गैग के सरगना राशिद खान के साथ रंगे हाथो पकड़ी गई। मौके पर पहुचे कथित रेप पीडिता के पति ने मामले की जानकारी स्थानीय जलीलपुर पुलिस चौकी पर दिया जिसके बाद जलीलपुर पुलिस चौकी के पुलिस कर्मी मौके पर पहुचे और कथित रेप पीडिता और गैग के सरगना राशिद खान को आपत्तिजनक स्थिति में कमरे के अन्दर से पकड़ कर पुलिस चौकी लाये।

घटना के सम्बन्ध में मिली जानकारी के अनुसार धनबाद जनपद के रहने वाले एक व्यक्ति ने जलीलपुर पुलिस चौकी के पीछे एक कमरा किराये पर ले रखा था। इस कमरे में वह अपनी पत्नी के साथ रहता था। विगत दिनों उक्त महिला का पति अपनी शिकायत लेकर जलीलपुर पुलिस चौकी पंहुचा था कि राशिद खान उसकी पत्नी को लेकर भाग गया है। इस प्रकरण में राशिद खान ने खुद को पाक साफ़ बताते हुवे सुपारी लेकर खबर चलाने वाले फर्जी पत्रकार को एक बयान देकर कहा था कि वह महिला कहा है उसको इसकी जानकारी ही नही है। इस दरमियान उक्त कथित रेप पीडिता का पति अपने गृह जनपद धनबाद चला गया।

प्राप्त समाचारों के अनुसार आज अहले सुबह यानी भोर में लगभग 3 बजे उक्त महिला का पति वापस चंदौली जनपद के जलीलपुर अपने किराये के कमरे पर पंहुचा। पीड़ित पति का आरोप है कि उसने देखा कि उसकी पत्नी यानि कथित रेप पीडिता राशिद खान के साथ आपत्तिजनक स्थिति में सो रही है। उसने इसकी सुचना चंदौली जनपद के कोतवाली मुगलसराय की पुलिस चौकी जलीलपुर जाकर दिया। जलीलपुर चौकी के एक पुलिस सूत्र ने बताया कि मौके पर पहुचने पर पुलिस भी आवक रह गई। महिला और राशिद खान घोर आपत्तिजनक स्थित में एक कमरे में थे।

इस परिस्थिति में मौके पर कथित रेप पीडिता के पति द्वारा हंगामा भी होने लगा। शोर सुनकर आसपास के लोग भी इकठ्ठा होने लगे। पुलिस कार्यवाही करते हुवे कथित रेप पीडिता और राशिद खान को लेकर जलीलपुर पुलिस चौकी आई। पुलिस सूत्र बताते है कि जलीलपुर पुलिस चौकी आने के बाद फर्जी रेप/पाक्सो एक्ट का मुकदमा दर्ज करवाने वाले गैंग का सरगना राशिद खान खुद को सपा का बड़ा नेता और सुपारी लेकर खबर चलाने वाले फर्जी पत्रकारों का साथी बता कर हंगामा करने की कोशिश करने लगा। इस परिस्थिति में पुलिस ने राशिद खान की पीठ पूजा भी कर डाली तो हंगामा ठंडा हुआ।

सूरज निकलते के साथ ही दालमंडी के खुद को बाहुबली समझने वाले कुछ तथा कथित नेता और थाने चौकी की सेटिंग करके दलाली करने वाले भी जलीलपुर पुलिस चौकी पहुच गए। इस दरमियान अधिवक्ता महोदय से लेकर फर्जी पत्रकार भी मौके पर जाकर मामले को ठन्डे बस्ते में डाल कर राशिद खान खान को छुडवाने की जुगत लगाने लगे। समाचार लिखे जाने तक राशिद खान जलीलपुर पुलिस चौकी की शोभा में बढ़ोतरी कर रहा था। जुगाड़ करने वाले खुद सक्रिय है।

अनसुलझा बड़ा सवाल

फर्जी रेप और पाक्सो का मामला दर्ज करवाने वाले दालमंडी से संचालित गैग का सरगना राशिद खान अपने नए आकाओं को कल तक बयान दे रहा था कि महिला के सम्बन्ध में उसको जानकारी है कि वो कहा है लोग जाकर तलाशे मेरे पास नही है। राशिद खान के इस बयान के बाद राशिद खान के साथ इसके चंद घंटो के दरमियान ही उस महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा जाता है। अब कल तक जो फर्जी पत्रकार खुद को असली बताते हुवे सुपारी लेकर खबर चलाने का दावा कर रहे थे और राशिद खान को बड़ा मासूम और इमानदार साबित करने की कोशिश कर रहे थे अब कहा है ?

वैसे बताते चले कि राशिद खान इसके पहले सट्टा खेलवाने में चर्चा का विषय बना था। दालमंडी के सभ्रांत नागरिको ने काफी प्रयास और कई शिकायते उस समय राशिद खान के खिलाफ किया था। जिसके बाद तत्कालीन चौकी इंचार्ज जमीलुद्दीन ने इस वर्षो से चले आ रहे सट्टे के काले कारोबार को बंद करवाया था। जिसके बाद से दालमंडी में शांति स्थापित हुई थी। मगर राशिद खान इसके बाद झूठा रेप/पाक्सो का मुकदमा दर्ज करवाने का गैंग संचालित करने लगा। हमारे पास इसके पुख्ता साक्ष्य उपलब्ध है कि इस गैंग के द्वारा फर्जी मुक़दमे दर्ज करवाए गए है। अब देखना है कि इस गैंग पर वाराणसी पुलिस कब बड़ी कार्यवाही करती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *