इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की वीसी के बाद अब मंत्री आनंद शुक्ला को बेचैन कर रही अज़ान की आवाज़, डीएम को पत्र लिखकर मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने की किया मांग

संजय ठाकुर

बलिया। इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की कुलपति प्रो सगीता श्रीवास्तव के नींद में अचानक अज़ान की आवाज़ से खलल पड़ने लगा और उन्होंने डीएम से पत्र लिखकर मस्जिद के लाउडस्पीकर को हटवाने की दरखास्त किया।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. संगीता श्रीवास्तव के बाद अब योगी सरकार के संसदीय कार्य और ग्राम्य विकास राज्य मंत्री आनंद शुक्ला को भी लाउडस्पीकर पर अजान से दिक्कत हो रही है। मंत्री ने एतराज जताते हुए बलिया के जिलाधिकारी को पत्र लिखा है। उन्होंने मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकरों को हटाने की मांग की है।

क्लाइव रोड, सिविल लाइंस में दशकों से रह रहीं कुलपति ने प्रयागराज के जिलाधिकारी को पत्र लिखकर अपनी शिकायत दर्ज कराई थी। जिसमें लिखा था कि अजान की आवाज उनकी नींद खराब कर देती है। उन्होंने इलाहाबाद हाईकोर्ट के एक आदेश का हवाला देते हुए जिलाधिकारी से अपेक्षा की थी कि वह क्षेत्र में शांति बनाए रखने के लिए आवश्यक कदम उठाएंगे।

अब एक ऐसा ही मामला बलिया जनपद में आया है जहा योगी सरकार के एक मंत्री आनंद शुक्ला ने डीएम को पत्र लिख कर कहा है कि नमाज के दौरान अजान के लिए लाउडस्पीकर की ध्वनि आवश्यकता से अधिक है। इसको हटवाया जाते। इस पत्र के सम्बन्ध में आज जानकारी लोगो को हुई है। मामले में जिला प्रशासन से कहा गया है कि अज़ान की आवाज लाउडस्पीकर पर काफी तेज़ है। मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटवाये जाए। इस पत्र के बाद सियासी हलचल भी होने की सुगबुगाहट सुनाई दे रही है।

राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने डीएम को जो लेटर लिखा है उसमें लिखा है कि बलिया में स्थित मस्जिदों में नमाज के दौरान अजान, दिनभर लाउडस्पीकर के माध्यम से धार्मिक प्रचार-प्रसार, मस्जिद निर्माण हेतु चंदा एकत्र करने और विभिन्न प्रकार की सूचनाओं को अत्यधिक तेज आवाज में प्रसारित किया जाता है, जिससे छात्रों के पठन-पाठन और बच्चों, वृद्ध व बीमार लोगों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है, साथ में जनसामान्य को अत्यधिक ध्वनि प्रदूषण का सामना करना पड़ रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *