बलिया – रेप पीड़िता ने DIG से भेट कर लगाईं फ़रियाद – साहब महंत मौना बाबा और उनके दो शिष्यों ने दुष्कर्म किया, जनवरी में दर्ज हुआ मुकदमा मगर पुलिस नही कर रही कार्यवाही

उमेश गुप्ता

बलिया। बलिया जनपद के खैरखास मठ के महंत भूपन तिवारी उर्फ़ मौन बाबा और बेल्थरा रोड निवासी राजेश कुमार गुप्ता “पप्पू” और जगत नारायण दुबे पर एक किशोरी ने बलात्कार और धमकी देने का मामला दर्ज करवाया है। किशोरी का आरोप है कि मठ के महंत और उसके दो शिष्य पिछले सात वर्षो से उसका दुष्कर्म कर रहे है। प्रकरण में अदालत के आदेश पर पाक्सो सहित बलात्कार के अन्य गंभीर धाराओं में पुलिस ने मामला 3 जनवरी को ही दर्ज कर लिया है। मगर आरोपी दोनों शिष्य और महंत पुलिस पकड़ से बाहर है। इन सब आरोपों के साथ एक रेप पीडिता आज डीआईजी आजमगढ़ के सामने पेश हुई, तो मामला एक बार फिर से उभर कर सामने आ गया है.

प्रकरण के सम्बन्ध में मिली जानकारी और पीड़ित किशोरी के आरोपानुसार पीडिता मूल रूप से सुल्तानपुर की निवासिनी है और वर्तमान में उभांव थाना क्षेत्र के एक गांव में रहती है। किशोरी ने आरोप लगाया है कि महंत भूपन तिवारी उर्फ मौना बाबा, निवासी सदर गोड़वा थाना ललिया जनपद बलरामपुर पीडिता का रिश्तेदार है। पीडिता के पिता की मृत्यु के बाद शिक्षा दीक्षा देने के लिए महंत मौना बाबा उसे मठ लेकर आ गया। जिसके बाद से महंत और उसका शिष्य जगत नारायण दुबे निवासी खैराखास थाना उभाव जनपद बलिया और राजेश कुमार गुप्ता उर्फ पप्पू निवासी मालगोदाम रोड, बेल्थरा रोड थाना उभांव जनपद बलिया वर्ष 2015 से ही उसका शारीरिक शोषण कर रहे थे।

इस प्रकरण में अदालत के आदेश के बाद पुलिस ने 3 जनवरी 2021 को ही मुकदमा दर्ज कर लिया था। मगर अभी तक महंत और उसके शिष्य पुलिस पकड़ से दूर है। प्रकरण तब एक बार फिर उभर कर सामने आया जब कल शुक्रवार को पिद्ता ने डीआईजी आजमगढ़ मंडल सुभाष चन्द्र दुबे से मुलाकात कर शिकायत किया कि अदालत के आदेश के बाद भी पुलिस आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नही कर रही है। वही आरोपी महंत और उसके शिष्य उसको डरा धमका रहे है।

मामले में डीआईजी आजमगढ़ मंडल सुभाष चन्द्र दुबे ने प्रतिक्रिया देते हुवे कहा है कि मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है और शीघ्र ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मामले का खुलासा करने के लिए प्रभावी जांच का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *