रेल बाज़ार इस्पेक्टर रवि श्रीवास्तव और एसटीऍफ़ लखनऊ को मिली मादक पदार्थ तस्करों पर बड़ी कामयाबी, 121 किलो गांजा सहित तीन गिरफ्तार

आदिल अहमद

कानपुर। क्राइम कण्ट्रोल में सुपर कॉप साबित होते रेल बाज़ार थाना प्रभारी निरीक्षक रवि श्रीवास्तव और एसटीऍफ़ लखनऊ को आज एक बड़ी कामयाबी उस समय हाथ लगी जब एक पिकअप की तलाशी में भारी मात्रा में गांजा बरामद करते हुवे तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया। मादक पदार्थ के तस्करों द्वारा पिकअप में विशेष रूप से एक कैबनेट बना कर गांजा उसमे छुपाया हुआ था। पुलिस ने ये गिरफ़्तारी सीओडी पुल के पास से किया है।

रेल बाज़ार थाना प्रभारी निरीक्षक रवि श्रीवास्तव और एसटीऍफ़ लखनऊ की संयुक्त टीम काफी समय से मादक पदार्थो की तस्करी पर लगाम लगाने हेतु प्रयासरत थे। इस क्रम में पिछले पखवाड़े कुख्यात मादक पदार्थ तस्कर रिजवान अत्ता को भारी मात्रा में अवैध चरस के साथ हिरासत में रवि श्रीवास्तव ने लिया था। इसके बाद मादक पदार्थ तस्करों की कमर टूट गई थी। मगर आज हुई गिरफ़्तारी मादक पदार्थ तस्करो पर एक बड़ा वार होना समझा जा रहा है।

गिरफ़्तारी के सम्बन्ध में प्राप्त समाचारों के अनुसार आज रेलबाजार थाना प्रभारी रवि श्रीवास्तव और उनकी टीम के साथ एसटीऍफ़ को मादक पदार्थ तस्करी की सुचना मिली थी। इस कड़ी में पुलिस टीम ने एक पिकअप संख्या DL 1L AD 9717 की तलाशी लिया गया। देखने में यह गाडी खाली दिखाई दे रही थी। मगर इसके डाले पर शंका पैदा कर रहे थे। बारीकी से जब पुलिस ने इसकी जाँच किया तो पिकअप के डाले में अलग से कैबनेट बना दिखाई दिया। जब कैबनेट खोल कर देखा गया तो सभी भौचक्का रह गए। कैबिनेट से कुल 121 किलो गांजा बरामद हुआ। वही पुलिस ने इन अवैध गांजे के साथ कुल तीन युवको क्रमशः भीम सिंह पुत्र रेशम पाल सिंह, मुन्ना उर्फ़ मुनेन्द्र पुत्र बेचन चौधरी दोनों निवासी ओखला फेज़-2 नई दिल्ली और अभय चौहान पुत्र अनीस सिंह निवासी कन्नौज को हिरासत में लिया गया।

गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से पुलिस को 121 किलो गांजा सहित तीन मोबाइल, 13400 रुपया नगद और आधार कार्ड तथा पैन कार्ड बरामद किया है। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में थाना रेलबाज़ार प्रभारी रवि श्रीवास्तव, एसआई प्रदीप मौर्या, हे0का0 विपिन कुमार, प्रदीप कुमार, का0 विपन कुमार, अनुज भाटी तथा एसटीऍफ़ टीम में प्रभारी एसटीऍफ़ धनश्याम यादव, एसआई करुणेश पाण्डेय, हे0का0 प्रताप नारायण सिंह व कुलदीप सिंह तथा का0 शिव भील अब्दुल कादिर शामिल थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *