प्रयागराज – बिना अनुमति काटे जा रहे हरे पेड़, वन विभाग के ज़िम्मेदार “सब चंगा है” के तर्ज पर फरमा रहे आराम

तारिक खान

प्रयागराज। देश मे जिस तरह से ऑक्सीजन की कमी पड़ रही उससे इंसान और इंसानियत दोनों पर खतरा मंडरा रहा है जो पेड़ हमें ऑक्सीजन देते है लोग अब उसी को काट कर पैसा कमा रहे है। जिससे आने वाले दिनो में समस्या विकराल रूप लेगी। शहर के कई इलाको  में इन्ही हरे भरे पेड़ो को काट कर उसकी लकड़ी से वन माफ़िया मोटा पैसा कमा रहे है। ऐसा नही है कि वन विभाग से जुड़े अफसरों को पता नही है बल्कि नीचे के अफसरों को मैनेज करके ये “सब चंगा सी” के तर्ज पर अवैध धंधा किया जा रहा है।

हरे पेड़ो की कटाई पर सरकार ने पूरी तरह से रोक लगा रही है। अगर किसी वजह से पेड़ काटने भी है तो वह विभाग से परमिशन ली जाती है। लेकिन धुमन गंज के बमरौली के असरौली इलाके में अवैध तरीके से नीम जबुन आम, महुआ, बरगद के पेड़ों को काट कर आरा मशीन के ज़रिए लकड़ी निकाल कर बेचा जा रहा हैं। घनी आबादी में हर दिन अवैध आरा मशीन चलने और लकड़ी कटाई से पूरे इलाके में प्रदूषण भी फैल रहा है।

अवैध रूप से आरा मशीनें चलवाने और हरा पेड़ काट कर अवैध धंधा करने वाले इलके के दबंग अमीर सबील काशिफ जमील अकरम बराबर पेड़ो की कटाई करके आरा मशीनें चलवा कर वन विभाग को सरकार को लाखों का चूना लगा रहे है। पिछले महीने उच्च अधिकारियों तक शिकयत की गई थी तो वन विभाग ने इनकी आरा मशीनें 25 मार्च को अमीर और सोनू की मशीन सील कर दी थी।

सूत्रों की माने तो अब इन दबंगो ने नीचे के वन निरीक्षक को सेट करके सीलिंग खुद ही खोल कर अवैध रूप से लकड़ी काटने का काम शुरू कर दिया। प्रदूषण फैलाने पर कई लोगो ने जब इनसे शिकयत की तो ये लोग मारपीट पर उतारू हो जाते। जिसकी वजह से लोग  शिकयत करने से भी बचते है। सीलिंग तोड़ कर मशीन चलवाने की शिकायत वन विभाग के अधिकारियों से लिखित की गई है। मगर वन विभाग के अधिकारियो की स्थिति वही है “सब चंगा सी” कहकर अपना पल्ला झाड रहे है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *