बाबा रामदेव के पतंजलि योगपीठ में 10 अप्रैल से लेकर अभी तक मिले कुल 83 कोरोना संक्रमण के मामले, योगपीठ की ओपीडी हुई बंद

आदिल अहमद

हरिद्वार। देश में वैश्विक महामारी कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे है। वही उत्तराखण्ड भी इससे अछूता नही रह गया है। उत्तराखंड में रोज़-ब-रोज़ कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते ही जा रही है। ताज़ा प्राप्त हो रहे समाचारों के अनुसार कोरोना की दवा बनने का कभी दावा करने वाले बाबा रामदेव के पतंजलि योग पीठ में अब तक कुल 83 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके है। गुजिस्ता 10 अप्रैल से लेकर अभी तक बाबा रामदेव के पतंजलि योगपीठ में कुल 83 मामले सामने आने के बाद हडकम्प सा मचा हुआ है।

सोर्सेस से मिल रहे समाचारों के अनुसार पतंजलि योगपीठ में 83 लोग कोरोना पॉजिटिव सामने आने के बाद सभी संक्रमितों को होम आइसोलेट कर दिया गया है। वही मिल रही जानकारी के अनुसार बाबा रामदेव का भी कोरोना टेस्ट किया जाएगा। वही मामला सामने के बाद प्रशासन में भी हड़कंप मच गया है। पतंजलि पीठ में मौजूद अन्य लोगों की भी कोरोना जांच की जा रही है। जनपद के सीएमओ डॉक्टर शंभू झा का कहना है कि 10 अप्रैल से अब तक पतंजलि योगपीठ आचार्यकुलम और योग ग्राम में 83 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। सभी मरीजों को पतंजलि परिसर में आइसोलेट किया गया है।

सीएमओ ने कहा कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में ओपीडी बंद कर दी गई है। अस्पताल में कोविड रोगियों के लिए 200 बिस्तर हैं जिन्हें जरूरत पड़ने पर बढ़ाकर 500 तक किया जा सकता है। बताते चले कि राज्य में कोरोना के संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुवे सरकार ने पाबंदियों को और सख्त कर दिया है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने पूरे प्रदेश में नाइट कर्फ्यू की अवधि बढ़ा दी है। कोरोना की रोकथाम के लिए जारी नई SOP के तहत अब प्रदेश के सभी जिलों में रात 9 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *