स्वयं सेवी सामाजिक संस्था गौस-ए-आफियत के सदस्यों ने सामूहिक दुआख्वानी कर किया रब की बारगाह में दुआ “या अल्लाह हमारे इस प्यारे मुल्क को कोरोना महामारी से बचा”

ए जावेद

वाराणसी। अपने सामाजिक कार्यो के लिए अक्सर चर्चोओ में रहने वाली सामाजिक संस्था गौस-ए-आफियत ने आज अपने मानिंद सदस्यों के साथ बनिया बाग़ में एक साथ रोज़ा इफ्तार किया। सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुवे सभी सदस्यों ने इफ्तार किया और इसके बाद हुई नमाज़ में अल्लाह की बारगाह में हाथ उठा कर दुआ किया गया कि “या अल्लाह हमारे इस प्यारे मुल्क को कोरोना महामारी से बचा।”

बताते चले कि सामाजिक संस्था गौस-ए-आफियत अक्सर ही सामाजिक कार्य करती रहती है, इसके मुख्य कार्यक्रम जो आकर्षण का केंद्र बनते रहे है वह है स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस पर झंडा रोहण, रबीउल अव्वल पर सजावट और रोज़े में इफ्तार की आवामी दावत। इफ्तार दावत आवामी होने के कारण हजारो लोग इस इफ्तार में शामिल होते थे। मगर कोरोना महामारी के मद्देनज़र इस साल भी यह दावत निरस्त रही। गौरतलब हो कि पिछले रमजान में भी लॉक डाउन के कारण यह इफ्तार पार्टी नही हुई थी।

इस बार इफ्तार पार्टी केवल संस्था के सदस्यों हेतु आयोजित हुई और इसमें संस्था के सदस्यों ने सोशल डिस्टेंस के साथ इफ्तार किया। जिसके बाद हुई दुआख्वानी में सभी सदस्यों ने रब की बारगाह में हाथ उठा कर दुआ किया कि “या अल्लाह हमारे प्यारे मुल्क को कोरोना महामारी से बचा ले मौला।” इस दरमियान तमाम आलमीन के खैर की दुआ भी हुई। कार्यक्रम में शकील, कामरान, मंजर, सऊद, शाहिद, मो सलीम, हाज़ी अशफ़ाक, हाजी राशिद, शहुउद्दीन, राजू, हाफिज फरहान, आमिर, इश्तियाक आदि लोग मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *