एक ऐसी शादी जिसके बाद पक गई रिश्तो की खिचड़ी, बेटा बना अपने ही बाप का साढू भाई क्योकि उसने अपनी मौसी से ही अपनी शादी रचाई

तारिक खान

रांची। झारखण्ड में रिश्तो की खिचड़ी का एक अजीबो गरीब शर्मनाक मामला सामने आया है। जिसको जानकार आप खुद भी हैरान हो जायेगे। रिश्ते की खिचड़ी ऐसे पकी है कि कल तक जो बाप-बेटे थे वह आज साढू भाई हो गए है। बड़ी बहन सास बन गई है और छोटी बहन उसकी बहु। इसी से आप कन्फियुज़ हो रहे है। रुके थोडा और रिश्ता जोड़े और समझे कि कल तक जो नाना नानी थे अब वो सास ससुर हो गए है और कल तक जो नाती था वह अब दामाद बन चूका है। हो गई न रिश्तो की खिचड़ी।

अब आइये आपको पूरी घटना से रूबरू करवाते है। चतरा जिलें के रक्सी गांव में रहने वाले सोनू राणा को अपनी चचेरी मौसी सोनी कुमारी से इश्क हो गए। इश्क परवान चढ़ा और दोनों एक साल से एक दुसरे के साथ जीने मरने की कसम खा कर जीना शुरू कर दिए। सोनी राजपुर थाना क्षेत्र के कैंडीनगर गांव की रहने वाली है। दोनों प्रेमी युगलों ने आखिर दुनिया के रिश्तो की सभी डोर तोड़ डाली और बीते शुक्रवार को हेरुआ नदी के पास शिव मंदिर में जाकर शादी रचा ली। इस शादी की सूचना जैसे ही घर वालों और ग्रामीणों को हुई, गांव में लोगों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया। ऐसे में दोनों लोगों ने किसी तरह से भागकर जान बचाई।

वही प्रेमी युगल शादी होने की बात कहकर एक दुसरे से अलग होने को तैयार नही थे जबकि रिश्तेदार और नातेदार उनको समझा समझा कर थक रहे थे। मामला इतना बढ़ा कि ग्रामीण और परिजनों ने दोनों प्रेमी युगल को दौड़ा लिया और दोनों ने किसी तरह भाग कर अपनी जान बचाई। आखिर भागते हुवे दोनों प्रेमी युगल सदर थाना पहुच गये। ऐसे में पुलिस ने प्रेमी युगल के बालिग होने के कारण दोनों के परिजनों को बुलाकर दोनों को छोड़ दिया गया।

उधर प्रेमी युगल के परिवार वालों ने शादी को मानने से साफ मना कर दिया। लेकिन दोनों प्रेमी युगल एक साथ रहने को लेकर जिद पर अड़े रहे। पुलिस ने ऐसे में दोनों के बालिग होने के कारण परिवार वालों को समझा बुझाकर दोनों प्रेमी युगल की  शादी करा दी गई। वहीं गांव में जब दोनों दूल्हा दुल्हन घर पहुंचे, तो इलाके में हड़कंप मच गया। घटना की चर्चा केवल क्षेत्र में ही नही बल्कि पुरे प्रदेश में हो रही है। इस शादी के बाद पकी रिश्तो की खिचड़ी लोगो के चर्चा का विषय बनी हुई है।

खबर साभार TV9 हिंदी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *