वाराणसी – भाजपा नेता हाजी अनवार का छलका दर्द, वीडियो जारी कर बताया कैसे प्रशासन और पार्टी के नेताओं ने मदद नही किया, और कोरोना ने ले लिया बिना इलाज उनकी भाभी की जान

तारिक़ आज़मी

वाराणसी। शासन स्तर पर स्वास्थ्य सेवाओं हेतु दावे लाख किये जा रहे है। मगर अब खुद सत्तारूढ़ दल भाजपा के नेताओं ने आवाज़े उठाना शुरू कर दिया है। अभी कुछ दिन पहले ही एक भाजपा विधायक ने जहा इस महामारी में स्वास्थ्य सेवाओं के बुरे हाल पर आवाज़ उठाई थी। वही अब वाराणसी में भाजपा के उस अल्पसंख्यक नेता जिसकी तारीफ खुद प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने किया था, जिसके लिए प्रधानमन्त्री ने थैंक यु लेटर तक जारी किया था ने अपना एक वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में उन्होंने अपना दर्द तो छलकाया ही है। साथ ही साथ प्रधानमन्त्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कोरोना मरीजों की दुर्व्यवस्था को भी उजागर किया है।

बताते चले कि भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा काशी क्षेत्र के अध्यक्ष हाजी अनवार अहमद अंसारी की गिनती वाराणसी में भाजपा के अल्पसंख्यक कद्दावर नेताओं में होती है। हाजी अनवार के पास लोग खुद की मदद के लिए जाते है। वही हाजी अनवार जिनके द्वारा लॉक डाउन में किये गये कार्यो की प्रशंसा खुद प्रधानमन्त्री ने किया था और उनको थैंक यु लेटर भी भेजा था। उस कद्दावर भाजपा नेता हाजी अनवार के आरोपों को आधार माने तो जिले में सभी उच्चाधिकारियों से लेकर पार्टी के नेताओं तक से बात करने के बावजूद कोरोना संक्रमित उनकी भाभी को एक बेड नही मिल सका और बिना इलाज ही कोरोना से उनकी फौत हो गई।

हाजी अनवार ने अपना वीडियो जारी कर आरोप लगाया है कि दिनांक 17 अप्रैल को उनकी भाभी का देहांत कोरोना के कारण हो गया। हाजी अनवार ने अपने वीडियो में आरोप लगाते हुवे कहा है कि मैंने जिलाधिकारी से लेकर सीएमओ तक से एक बेड उपलब्ध करवाने की गुहार लगाईं। जब कोई सुनवाई नही हुई तो भाजपा के नेताओं से अपनी बात कही और एक बेड कही भी दिलवा देने की गुहार लगाईं मगर हालात ऐसे है कि खुद मेरे परिवार की सदस्य मेरी भाभी को बेड नही मिल सकी और बिना इलाज उनकी मौत हो गई।

हाजी अनवार ने अपना वीडियो जारी करते हुवे उसे अपनी फेसबुक वाल पर पोस्ट किया है। उनके द्वारा फेसबुक पर जारी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। उन्होंने प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी से अनुरोध करते हुवे कहा है कि जब हम जैसे पार्टी के नेताओं को बेड मुहैया नही हो पा रही है तो आम नागरिको की क्या हाल होगी ? उन्होंने वीडियो में उदहारण देते हुवे कहा है कि लोग बिना आक्सीजन के मर रहे है। उनके इलाज का वाराणसी में समुचित व्यवस्था किया जाए। हालात बिगड़ते ही जा रहे है।

अब आप वाराणसी के हालात को समझ सकते है। शासन और प्रशासन के दावो की पोल कही न कही से हाजी अनवार का वीडियो खोल रहा है। उन्होंने प्रशासन के उस दावे को नकारा है अपने वीडियो में जिसमे प्रशासन और शासन बेड की कमी न होने की बात कह रहा है। आप हालात का अंदाजा लगाये और खुद सोचे। जब हाजी अनवार जिनको अप्ल्संख्यक का एक कद्दावर नेता समझा जाता है और वह लोगो की मदद की बात कहते है वह खुद अपने परिवार के लिए एक बेड का इंतज़ाम न कर पाए। उन्होंने अपनी पार्टी के नेताओं (जैसा कि हाजी अनवार ने अपने वीडियो में आरोप लगाया है) से मदद मांगी मगर उनको वहा से भी मदद नही मिली तो हम और आप क्या है? आप सोचे हाजी अनवार जैसे शहर के कद्दावर नेता के परिवार का सदस्य सही वक्त पर समुचित इलाज न पा सका और ज़िन्दगी की जंग हार गया। फिर आप और हम कैसे इस बात पर विश्वास कर ले कि अव्यवस्था नही है?

कोरोना से बिगड़ते हालात को समझे आप। जब हाजी अनवार खुद के परिवार हेतु एक बेड नही पा सके तो फिर आप किस उम्मीद में है कि आपको बेड मुहैया हो जाएगी। कही आप कसी मुगालते में तो नही जी रहे है ? घरो में इलाज कर रहे अपने परिवार के सदस्यों हेतु आक्सीज़न के लिए जद्दोजेहद करते लोगो को देखे और समझे क्या हाल हो चूका है। आप सुरक्षित रहे, बिना ज़रूरत आप घरो के बाहर न निकले। मास्क का हमेशा उपयोग करे। हाथो को धोते रहे और उचित दुरी बनाये रखे। याद रखे “दो गज की दुरी, मास्क है ज़रूरी।” अन्यथा सटला त गईला आपने ट्रको के पीछे लिखा पढ़ा ज़रुर होगा।

बहरहाल, हम हाजी अनवार के दर्द को समझ सकते है। हमारी सभी संवेदनाये उनके साथ है। हम अल्लाह से उनकी भाभी के मगफिरत की दुआ करते है। साथ ही दुआ करते है कि पुरे मुल्क को इस महामारी के कहर से बचाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *