आपदा में कालाबाजारी अवसर तलाश रहा था ये भाजपा नेता, इंदौर में कर रहा था रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी, पुलिस कार्यवाही के बाद से है फरार

तारिक खान

इंदौर। प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने आपदा में अवसर तलाशने की बात लॉकडाउन के दरमियान कही थी। उनका तात्पर्य था कि इस आपदा के समय अपनी नैसर्गिक प्रतिभा को चमका कर उसका रोज़गार में प्रयोग किया जा सकता है। मगर शायद इस भाजपा नेता को कुछ ज्यादा ही समझ आ गया और आपदा में अपने कालाबाजारी का अवसर तलाशने ही नही लगा बल्कि अवसर का पूरा भरपूर फायदा उठाते हुवे रेमडेसिविर इंजेक्शन की ब्लैक मार्केटिंग करने लगा।

एक तरफ जहा इंदौर में कोरोना संक्रमण के कारण अँधेरे मुह ही लोग रेमडेसिविर इंजेक्शन के लिए भूखे प्यासे लाइन लगा रहे है कि अपने सगे को मौत के मुह में जाने से बचा सके, वही भाजपा का ये नेता लोगो की इस ज़रूरत को अपने लिए काली कमाई का जरिया बना बैठा। उसने रेमडेसिविर इंजेक्शन की काला बाजारी शुरू कर दिया। दरअसल रेमडेसिविर इंजेक्शन इस समय कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए संजीवनी बूटी के समान है। चिकित्सको की माने तो 40 फीसद अथवा इससे अधिक के इन्फेक्शन वाले पेशेंट्स पर ये इंजेक्शन बहुत ही कारगर साबित हो रहा है। जिसके बाद सरकार ने अस्पतालों को इसकी सप्लाई दिया है। वही इस रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग बढने के बाद लोग कालाबाजारी भी करना शुरू कर दिये है। एक मल्टी स्पेशिलटी अस्पताल की नर्स का भी ये इंजेक्शन बेचता वीडियो वायरल हुआ था। जिसके बाद एक समाचार पत्र ने भी इसका स्ट्रिंग किया था।

सत्ता के नशे में चूर इस भाजपा नेता की पोल एक स्ट्रिंग आपरेशन में भास्कर ने खोल डाली। 6 हज़ार तक में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले का खुलासा स्टिंग में होने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हडकंप मच गया। जिसके बाद बीते बुधवार को रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करने वाले ढक्कनवाला कुआं स्थित राज मेडिकल पर छापेमारी की कार्यवाही हुई। इस मेडिकल स्टोर संचालक राजेंद्र अग्रवाल भाजपा भाजपा नेता बताया जा रहा है। उसकी पत्नी मीना अग्रवाल यहाँ से पार्षद रह चुकी है।  इस छापेमारी की जानकारी मिलने के बाद पूर्व पार्षद मीना अग्रवाल का पति राजेंद्र अग्रवाल गुरुवार को दुकान बंद कर भाग गया। जिसके बाद प्रशासन की टीम ने मेडिकल स्टोर को सील कर दिया। अपर कलेक्टर अभय बेड़ेकर के मुताबिक मेडिकल दुकान का लाइसेंस भी सस्पेंड कर दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *