वाराणसी – पूर्व पत्रकार और ज़मीन कारोबारी एनडी तिवारी की गोली मर कर हत्या

ए जावेद/ मोहम्मद सलीम

वाराणसी। वाराणसी के रोहनिया थाना क्षेत्र के आखरी निवासी ज़मीन कारोबारी और पूर्व पत्रकार रह चुके एनडी तिवारी की अज्ञात बाइक सवारों ने गोली मार कर हत्या कर दिया। घटना उस समय हुई जब एनडी तिवारी मन्दिर से दर्शन कर वापस अपने घर जा रहे थे। इस दरमियान बाइक सवार दो बदमाशो ने कुरहुआ स्थित एक स्कूल के पास उन्हें रोका और थोडा बात करने के दौरान अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दिया। फायरिंग में एनडी तिवारी घायल होकर सड़क पर गिर पड़े। गोली की आवाज़ सुनकर स्थानीय नागरिक जब उस तरफ दौड़े तो बदमाश मौके से फरार हो गये। घायल एनडी तिवारी को बीएचयु स्थित ट्रामा सेंटर लाया गया जहा डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने प्रकरण में तीन लोगो को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दिया है।

घटना के सम्बन्ध में मिली जानकारी के अनुसार एनडी तिवारी पूर्व में एक प्रातः कालीन दैनिक समाचार पत्र के रोहनिया से संवादसूत्र थे। इसके बाद उन्होंने पत्रकारिता छोड़ कर ज़मीन के खरीद बेच का काम शुरू कर दिया था। वह प्रत्येक रविवार को शूलटंकेश्वर मंदिर में दर्शन पूजन के लिए जाते थे। पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से वह थोडा परेशान भी रहने लगे थे और रोज़ ही शूलटंकेश्वर मंदिर में दर्शन को जाने लगे थे। आज भी मन्दिर से वह घर को वापस आ रहे थे तभी रास्ते में यह घटना हो गई। कुरहुआ स्थित एक स्कूल के समीप बाइक सवार दो बदमाशों ने उन्हें रोका और बातचीत की। बातचीत के दौरान ही बेहद करीब से एनडी तिवारी पर अंधाधुंध फायरिंग की गई। बदमाशों के असलहे से निकली पांच गोली एनडी तिवारी की गर्दन और सीने के समीप लगी।

घटना की सुचना पाकर आईजी रेंज एस0के0 भगत और एसपी ग्रामीण अमित वर्मा बीएचयू ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ने मीडिया से बात करते हुवे कहा कि अब तक यही जानकारी मिली है कि एनडी तिवारी जमीन की खरीद-बिक्त्रस्ी का काम करते थे। इसके साथ ही वह ब्याज पर लोगों को पैसा भी बांटते थे। आशंका यही है कि जमीन विवाद की रंजिश में ही एनडी तिवारी की हत्या की गई है। आरोपियों का पता लगाकर उनकी धरपकड़ के लिए पुलिस की तीन टीमें गठित की गई हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *