उन्नाव – अजब गजब की पत्रकारिता, देखे वीडियो कैसे दुसरे को नसीहत अपनी फजीहत

आदिल अहमद

कानपुर. कानपुर के पडोसी जनपद उन्नाव का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. अजीबो गरीब पत्रकारिता का नमूना देखने को मिल रहा है इस वीडियो में. वीडियो उन्नाव जनपद का होना बताया जा रहा है जिसमे एक पतलकाल साहब (क्योकि सबको तो आप पत्रकार कह नही सकते है) के द्वारा एक पीटीसी किया जा रहा है. इसको देख कर आपकी हंसी फुट जाएगी. पतलकाल साहब ने दुसरे को तो जमकर नसीहत देते दिखाई दे रहे है मगर खुद की फजीहत करवा रहे है.

मिली जानकारी के अनुसार एक पतलकाल साहब हाथो में दो आईडी लेकर उन्नाव की एक बाज़ार में पहुच जाते है. वहा शायद वो सबको दिखाना चाहते होंगे कि हम भी पतलकाल है तो उन्होंने आखो पर काला चश्मा चढ़ाया. वैसे आँखों में उनके कोई दोष नही है. मगर शायद कुछ ज्यादा स्मार्ट दिखाई देने के लिए उन्होंने आँखों पर काला चश्मा चढ़ा लिया और एक नहीं बल्कि दो दो माइक आईडी लेकर पीटीसी करने लगे. अब आप भी सोच रहे होंगे कि दो माइक आईडी से एक साथ एक ही पीटीसी तो भाई पतलकाल साहब कुछ भी कर सकते है.

पतलकाल साहब को देख कर आसपास पुलिस कर्मी भी खड़े हो गए कि कही पतलकाल साहब पीटीसी करते करते नाराज़ न हो जाए. फिर पतलकाल साहब ने पीटीसी शुरू कर दिया और कैमरे पर दिखाने की कोशिश किया कि उन्नाव में दुकाने खुली हुई है. दुकानों पर दुकानदार है और ग्राहक भी है. उनको क्या कोरोना का डर नही है. पकलकाल साहब ने अपनी पीटीसी जैसी किसी चीज़ में कहा कि “यहाँ 80% लोग मास्क भी नही लगाये हुवे है. जबकि पतलकाल साहब ने खुद मास्क नही लगाया हुआ था. उन्होंने मास्क पर खूब जमकर नसीहत दिया. इस दरमियान किसी जनता ने पतलकाल साहब का खुद का वीडियो बना लिया और अब ये वीडियो जमकर वायरल हो रहा है और पतलकाल साहब की फजीहत भी जमकर हो रही है.

वैसे पतलकाल साहब का चश्मा बड़ा शानदार था. शायद इसी चश्मे को दिखाने के लिए उन्होंने इसको आँखों पर लगा लिया. पतलकाल साहब की ये पीटीसी कहा चलेगी इसकी जानकारी जैसे ही होगी हम बता देंगे. वैसे आपके मनोरंजन के लिए हमने ये वीडियो क्लिप भी लगा दिया है अपनी पोस्ट में आप खुद देखे और हंसियेगा मत.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *