पश्चिम बंगाल चुनाव – एक ऐसी सीट जहा से जीवित नहीं मृतक प्रत्याशी है आगे, नंदीग्राम से शुबेंधू अधिकारी की बढत हो रही है कम, टीएमसी 206 भाजपा 83 पर आगे

मुकेश यादव/ अनुराग पाण्डेय

डेस्क। पश्चिम बंगाल में भाजपा की पूरी ताकत झोकना भी कामयाब नही हो पा रहा है। प्रधानमन्त्री से लेकर कई प्रदेशो से मुख्यमंत्री तथा खुद गृहमंत्री तक ने कई रोड शो किया। जब कोरोना को लेकर पुरे मुल्क में कोहराम मचा हुआ था उस समय बड़ी बड़ी रैलिया और बड़े बड़े रोड शो हो रहे थे। आईटी सेल पश्चिम बंगाल में भाजपा द्वारा बदलाव का दावा कर रहा था। मगर आज जिस प्रकार से रुझान सामने आ रहा है वह बता रहा है कि भाजपा की मेहनत सफल नही हो पाई है। अभी तक हुई गिनती के अनुसार भाजपा पिछली बार जो 40 फीसद वोट पाई थी वह अब महज़ 37 फीसद वोट पाई है। जबकि टीएमसी अब 48 फीसद वोट पाती दिखाई दे रही है।

इस दरमियाना सबसे बड़ी खबर ये है कि भाजपा के एक नही बल्कि तीनो स्टार प्रत्याशी चुनावों में पीछे चल रहे है। सांसद बाबुल सुप्रियो, लाकेट चटर्जी और स्वप्न दास गुप्ता अपने अपने चुनाव में पीछे चल रहे है। वही भाजपा वर्त्तमान में महज 83 सीट पर बढत बनाये हुई है। जहा भाजपा अबकी बार 200 पार के नारे से चुनाव लड़ रही थी वही भाजपा के प्रवक्ता अब असमान के टारगेट पर चाँद पाना जैसे कहावत कहते दिखाई दे रहे है।

इस बीच पश्चिम बंगाल में एक सीट ऐसी भी है जहा से जीवित प्रत्याशियों के मुखालिफ मृतक प्रत्याशी चुनाव में आगे बढ़ता दिखाई दे रहा है। पश्चिम बंगाल के खरदहा सीट पर टीएमसी के प्रत्याशी कोरोना से जंग अपनी हार गए थे और उनका देहांत हो गया था। अब वो अपने सीट पर अपने प्रतिद्वंदी से आगे चल रहे है। जो एक बड़ी खबर है।

इस बीच बड़ी खबर नंदीग्राम से भी आ रही है। जहा सुबेंधू अधिकारी जिनके एक समय ममता के खिलाफ बढ़त 9 हज़ार पार चली गई थी अब बढ़त सिमटती दिखाई दे रही है। अब शुबेंधू अधिकारी महज़ 3 हज़ार मतो से आगे चल रहे है। बताते चले कि शुबेंधू अधिकारी टीएमसी में ममता के करीबी नेताओं में एक माने जाते थे। वह ममता को अपना राजनैतिक गुरु मानते थे। मगर उनका टीएमसी से मोह भंग हुआ और वह भाजपा के पाले में जाकर खड़े हो गए। भाजपा ने उनको उनकी पसंदीदा सीट नंदीग्राम से टिकट दिया। नदीग्राम वेस्ट बंगाल के राजनीती का केंद्र रहा है।

वही ममता ने इस सीट पर खुद शुबेंधू अधिकारी के खिलाफ उतर कर आमने सामने टक्कर दे डाला। नंदीग्राम दो हिस्सों में है जिसमे नंदीग्राम 1 और नंदीग्राम 2 है। इस सीट पर मुस्लिम मतदाता निर्णायक भूमिका में है। शुरू में पोस्टल बैलेट के बाद तीन राउंड गिनती के बाद शुबेंधू अधिकारी 9 हज़ार मतो से आगे बढ़ गए थे। इस दरमियान सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मतपेटी सिर्फ नंदीग्राम 1 से खुली थी। नंदीग्राम 2 जहा से मुस्लिम मतदाताओ का बाहुल्य है की पेटी खुलनी बाकी थी। इन पेटी के खुलने के बाद सीन एकदम उल्ट सकता है। ये बढ़त कुछ कम होकर तीन हज़ार पहुची थी, मगर दुबारा सुभेंदु अधिकारी की बढ़त बढ़कर 7 हज़ार के पार हो गई है। यहाँ ये जानना ज़रूरी है कि अभी महज़ 6 राउंड की गिनती पूरी हुई है। एक बार फिर ध्यान दे कि नंदीग्राम 2 की पेटियां चुनावों में उलटफेर कर सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *